गर्भवती​ पत्नी को इस बात पर घर से निकाला और मोबाइल पर कह दिया तीन तलाक

तीन ​तलाक पर कानून बनने के बावजूद वेस्ट यूपी में काफी मामले सामने आ रहे हैं। पुलिस में शिकायतें दर्ज हो रही हैं, लेकिन पीड़िताओं को फिर भी न्याय के लिए जूझना पड़ रहा है।

0
177

मुजफ्फरनगर। वेस्ट यूपी में तीन तलाक के मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है। इस मामले में पीड़िताओं की ओर से पुलिस में लिखित शिकायतें भी दर्ज हो रही हैं। इसके बावजूद पीड़िताओं को राहत नहीं मिल पा रही है और तीन तलाक के मामले सामने आ रहे हैं। मुजफ्फरनगर जनपद के गांव चौरावाला में पति ने अपनी गर्भवती पत्नी के साथ विवाद के बाद घर से निकाल दिया और ​फिर फोन पर उसे तीन तलाक कह दिया। इस संबंध में थाने में रिपोर्ट भी दर्ज कराई गई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें: CM Yogi मेरठ में Corona से हो रही मौतों पर बिफरे अफसरों पर, कहा- नहीं सुधरे तो कार्रवाई को रहें तैयार

जनपद के ककरौली थाना क्षेत्र के जटवाड़ा गांव निवासी एक महिला की शादी चौरावाला गांव निवासी अमजद से हुई थी। आरोप है कि शादी के बाद से ही पति, सास व ससुर दहेज के लिए बेटी को परेशान कर रहे थे। आरोप है कि गत 11 सितंबर ससुरालियों ने पचास हजार रुपये मायके से लाने की मांग को लेकर बेटी को मारपीट कर घर से निकाल दिया। बताया कि रविवार शाम अमजद ने फोन कर पत्नी से बात करने की इच्छा जाहिर की। जिस पर पिता ने कहा था कि अभी तुम दोनों के बीच लड़ाई हुई है, फिर बात कर लेना। जिस पर अमजद ने फोन पर ही पत्नी को तीन तलाक दे दिया। थानाध्यक्ष मुकेश सोलंकी ने बताया कि तहरीर के आधार पर तीन आरोपितों पर मुकदमा दर्ज किया है। मामले की जांच की जा रही है और दोषियों को शीघ्र ​गिरफ्तार किया जाएगा।

यह भी पढ़ें:  Duplicate NCERT Books Case: एक महीने में भाजपा नेता और उसके भतीजे के पास फटक भी नहीं पायी पुलिस, किए थे बड़े-बड़े दावे

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here