Muzaffarnagar Police ने ​मुठभेड़ में दबोचा चर्चित अनुज हत्‍याकांड का आरोपी, 50 हजार का था इनामी

मुजफ्फरनगर के मोरना कस्बे में मेडिकल व्यवसायी के हत्यारोपी कपिल को पुलिस ने मंगलवार की देर रात मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया, जबकि दो हत्यारोपी फरार चल रहे हैं। इस हत्याकांड से पुलिस की काफी फजीहत हुई थी।

0
313

मुजफ्फरनगर। मोरना कस्बे के चर्चित मेडिकल व्यवसायी अनुज हत्याकांड (Anuj Murder Case) का एक आरोपी पुलिस मुठभेड़ (Police Encounter) में गिरफ्तार किया गया है। मंगलवार रात में करीब ग्यारह बजे भोपा क्षेत्र के ककराला रजवाहा पटरी पर पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ में मुजफ्फरनगर पुलिस (Muzaffarnagar Police ) ने चर्चित अनुज हत्याकांड का एक आरोपी गोली लगने के बाद ​गिरफ्तार किया है। कपिल निवासी मोरना थाना भोपा का रहने वाला है। घायल बदमाश पर मेरठ (Meerut Police) के थाना दौराला और मुजफ्फरनगर के भोपा थाने से 25—25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया था। पुलिस ने बदमाशों के पास से बाइक, तमंचा व कारतूस बरामद किया है।

यह भी पढ़ें: योगी सरकार ने निजीकरण का फैसला 3 महीने के लिए ​टाला, बिजली कर्मचारियों की हड़ताल खत्म

अनुज हत्याकांड में काफी फजीहत होने के बाद पुलिस ने पर्दाफाश करते हुए तीन आरोपियों अजीत व कपिल निवासी मोरना, राहुल निवासी भेड़ाहेड़ी के वारदात में शामिल होने का दावा किया था। पुलिस ने हत्या के पीछे पुरानी रंजिश का हवाला दिया था। पुलिस ने कपिल को मुठभेड़ के बाद धर लिया, लेकिन दो अन्य शातिर अभी पुलिस पकड़ से दूर हैं।
मेडिकल व्यवसायी अनुज कर्णवाल की हत्या के बाद भयभीत परिजनों ने मोरना से पलायन कर दिया। अनुज की पत्नी अंजिता, पुत्रियों कशिश व गरिमा मुजफ्फरनगर में अपने जेठ के परिवार के साथ रह रही हैं, मुकदमे के वादी व अनुज के बड़े भाई हरिकांत तीजे के अगले दिन परिवार के साथ पलायन कर गए।

यह भी पढ़ें: Meerut में मामूली विवाद के बाद घर में घुसकर चिकित्सक को गोली मारी, पथराव और मारपीट में ​कई घायल

तब पुलिस ने दावा किया था कि परिवार ने पलायन नहीं किया है और वह जल्द वापस लौट जाएगा। अनुज हत्याकांड के बाद मोरना की जनता में आये उबाल और प्रकरण को राजनीतिक रंग लेता देख एसएसपी अभिषेक यादव ने घटना के चौथे दिन मोरना के तत्कालीन चौकी प्रभारी जगपाल सिंह और बीट कांस्टेबल सचिन को निलंबित कर दिया था। इसके बाद भी वारदात का पर्दाफाश नहीं होने पर भोपा एसएचओ संजीव कुमार को भी एसएसपी ने हटा दिया।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here