Meerut में तीन जगह गरजा नगर-निगम का बुल्डोजर, अवैध कब्जों पर हुई कार्रवाई

0
432

Meerut। मंगलवार को मेरठ नगर-निगम एक्शन मोड़ में दिखाई दिया। अलग- अलग तीन स्थानों पर बुल्डोजर से धवस्तीकरण की कार्रवाई की गई। नगर निगम की ज़मीन पर अवैध रूप से कब्जा होनें की सूचना के बाद नगर आयुक्त ने अपने अधिनस्तों को निगम की जमीन को कब्जा मुक्त करानें के आदेश दिये जिसके बाद निगम की टीम ने तीन जगहों पर ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की। जिससे इलाके लोगों में रोष देखने मिला। एक जगह टीम के साथ कब्जेधारियों ने नोक-झोक करने की भी कोशिश की।

Bagpat में पुलिस मुठभेड़, इनामी बदमाश गिरफ्तार, कई मुकदमों था वांछित

नगर-निगम के वार्ड-38 में खड़ौली गांव में निगम की जमीन पर अवैध रूप से निर्माण कर लिया गया था। सोमवार को निगम के पटवारी राजकुमार अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे और अवैध निर्माण को ध्वस्त करा दिया। बताया जा रहा है कि यह निर्माण दुलीचंद यादव का था जो सपा के नेता है। जब दुलीचंद यादव से बात करनें की कोशिश की गई तो उनका फोन नही लगा। यहां से निगम की टीम नंगला-ताशी पहुंची और यहां पर अवैध रूप से खोदी गई नींव को वापस भरा गया। बताया जा रहा है कि कुछ लोग निगम की जगह पर कब्जा करनें की तैयारी कर रहे थे और इसके लिए उन्होंने नींव भी खुदवा दी थी।

shamli में दो भाईयों की मौत से मचा कोहराम, फेक्ट्री में जा रहे थे नाइट ड्यूटी करने

इसके बाद नगर-निगम की टीम कंकर खेड़ा स्थित कैलाशी अस्पताल के पास पहुंची, यहां पर डिफैंस इंक्लेव के गेट को घ्वस्त कर दिया गया। इस गेट को भी काॅलोनी वासियों द्वारा अवैध रूप से लगाया गया बताया जा रहा है। वही गेट को तोड़नें के बाद निगम का बुल्डोजर कुछ दूर स्थित पैट्रोल पंप पर डीजल लेने रूका तो काॅलोनी के लोग भी वहां पर आ धमके और बुल्डोजर के शीशे तोड़ दिये और चालक के साथ मारपीट की गई। इस घटना की शिकायत नगर-निगम द्वारा पुलिस में करनें की बात कही जा रही है। कुल मिलाकर निगम की टीम ने अवैध निर्माणों को लेकर जो कार्रवाई की है वह तारीफ के काबिल है, नही तो अक्सर देखा यही जाता है कि निगम के ही किसी कर्मचारी पर पैसे लेकर जमीनों पर कब्जा करानें के आरोप लगते रहते है।

ये भी पढेंः Meerut: Rajpal Singh को मिली मेरठ की कमान, सपा हाईकमान ने फिर बनाया जिलाध्यक्ष

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here