Agra में मेडिकल छात्रा की हत्या, डॅाक्टर के खिलाफ मुकदमा दर्ज

एक सीनियर डॅाक्टर दो दिन पहले दे रहा था धमकी, मृतक योगिता ने भाई से फोन पर बताई थी पूरी बात

0
465

आगराः  SN मेडिकल कॉलेज के स्त्री रोग विभाग की पीजी छात्रा डॉक्टर योगिता गौतम की सिर में भारी वस्तु से प्रहार करके हत्या कर दी गई। बुधवार सुबह फतेहाबाद हाईवे पर बमरौली कटारा क्षेत्र में उनकी लाश मिली। एक मेडिकल की पढाई करने वाली होनहार छात्रा की मौत से हर कोई हतप्रभ है। पुलिस मृतक छात्रा के परिजनों की तहर पर आरोपी डॅाक्टर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। गिरफ्तारी के लिए उसकी तलाश में पुलिस लगी है।

Agra में यात्रियों से भरी बस हुई हाईजैक, अब कहानी में आया चौंकाने वाला ट्विस्ट

पुलिस के मुताबिक बुधवार सुबह बमरौली कटारा के पास एक युवती का शव मिला। युवती लोवर और टी-शर्ट पहने हुए थी, पास में ही उसके स्पोर्ट्स शूज पड़े हुए थे। सिर के पीछे गहरा चोट का निशान था।तलाशी में जेब में कोई पहचान पत्र नहीं मिला।मोबाइल भी गायब था। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।  बताया गया है नजफगढ़ दिल्ली निवासी डॉ महेंद्र कुमार गौतम पुलिस के पास पहुंचे। उन्होंने पुलिस को बताया कि उनकी बहन डॉक्टर योगिता एसएन मेडिकल कॉलेज से पीजी कर रही है। वह नूरी गेट में गोकुल चंद पेठे वाले के मकान में रहती है। उनकी बहन ने मुरादाबाद की तीर्थ कर महावीर मेडिकल कॉलेज में वर्ष 2009 में प्रवेश लिया था। मेडिकल में उनकी पहचान एक सीनियर डॉक्टर विवेक तिवारी से हुई थी। जो वर्तमान में उरई में मेडिकल ऑफिसर के पद पर तैनात है। वह बहन को परेशान करता है, मंगलवार शाम 4:00 बजे बहन का फोन घर पहुंचा था।

बताया गया  कि विवेक ने उसे डिग्री कैंसिल कराने की धमकी दी है। वो फोन पर रो रही थी, भाई आगरा में रात में 9:00 बजे बहन के घर पहुंचा, लेकिन वह वहां नहीं मिली। पुलिस ने तहरीर के आधार पर डॉ विवेक तिवारी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस की टीम तहरीर के आधार पर उरई के लिए रवाना हो गई है। एसपी सिटी आगरा ने बताया की मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है। आरोपी हर हाल में सलाखों के पीछे होगा, जल्द ही केस को वर्कआउट कर दिया जाएगा।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here