UP में एंटी रोमियो स्क्वायड ​फिर होगा प्रभावी, CM Yogi ने अफसरों को दिए ये कड़े निर्देश

सीएम योगी आदित्यनाथ ने 2017 में मुख्यमंत्री बनने के बाद एंटी रोमियो स्क्वायड का गठन किया था, लेकिन उसके बाद से ये स्क्वायड कहीं गायब हो गया था। अब सीएम ने दोबारा इसे क्रियाशील बनाने के निर्देशा दिए हैं।

0
226

लखनऊ। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि ​प्रदेश में बहन-बेटियों की सुरक्षा के लिए एंटी रोमियो स्क्वायड को प्रभावी ​बनाए जाने की जरूरत है। उन लोगों पर कड़ी नजर रखी जाए, जो बहन-बेटियों की सुरक्षा के लिए खतरा बने हुए हैं। उन्होंने 17 अक्तूबर से नवरात्र के साथ ही, पर्व और त्योहारों की श्रृंखला प्रारंभ हो जाएगी। सुरक्षा और कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के संबंध में पूरी सावधानी बरती जाए। अभी से पूरी तैयारी कर ली जाए। थाने स्तर से लेकर बीट स्तर तक अच्छे अधिकारियों को जिम्मेदारी दी जाए और जवाबदेही भी सुनिश्चित की जाए।

यह भी पढ़ें: बस में महिला को शराब पिलाकर दुष्कर्म करने के आरोपी चालक-परिचालक गिरफ्तार, ये मामला आया सामने

सीएम योगी आदित्यनाथ वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए कानून-व्यवस्था के संबंध में बैठक कर रहे थे। उन्होंने कहा कि यूपी अपराधियों के लिए शरणस्थली नहीं हो सकती। इसके मद्देनजर अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई में कोई रियायत नहीं बरती जाए। हर मामले में प्रभावी कार्रवाई की जाए। सीएम ने कहा कि सरकार की अपराध एवं भ्रष्टाचार के प्रति जीरो टालरेन्स की नीति है। भ्रष्टाचार, अराजकता और अव्यवस्था के मामलों में कोई भी रियायत नहीं दी जा सकती। महिलाओं के विरुद्ध होने वाले अपराधों को नियंत्रित करने के लिए संचालित आपरेशन शक्ति और माफिया तत्वों के विरुद्ध संचालित आपरेशन माफिया की प्रशंसा करते हुए कहा कि इन गतिविधियों को पूरे प्रदेश में निरन्तर और प्रभावी ढंग से संचालित रखा जाए।

यह भी पढ़ें: डॉन मुन्ना बजरंगी के हत्यारोपी कुख्यात सुनील राठी की कुर्क हुुई सम्पत्ति, 2001 से जेल में है बंद

बहन-बेटियों की सुरक्षा के प्रति खतरा बने लोगों के प्रति कार्रवाई में पूरी तत्परता बरती जानी चाहिए। इस संबंध में हर स्तर के अधिकारी संवेदनशील रहें। उन्होंने कहा कि एंटी रोमियो स्क्वायड को निरन्तर व प्रभावी ढंग से क्रियाशील रखा जाए। इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना अवनीश कुमार अवस्थी, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एसपी गोयल, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री संजय प्रसाद और सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here