Malaysia से बीमार बेटे की देश वापसी के लिए भटक रहे परिजन, डेढ़ महीने से नहीं हो रही उनकी सुनवाई

मेरठ जनपद के ​हस्तिनापुर क्षेत्र का एक परिवार जिला प्रशासन के अधि​कारियों से अपने बीमार बेटे की वापसी के लिए गुहार लगा रहा है, लेकिन डेढ़ महीने से उनकी आवाज नहीं सुनी जा रही है। वह इसके खर्चे के लिए अपनी जमीन तक गिरवी रखने के लिए तैयार हैं।

0
291

मेरठ। हस्तिनापुर क्षेत्र के गांव बस्तोरा का बेटा डेढ़ महीने से मलेशिया में बीमार हैं, लेकिन न तो उसकी दवा चल रही है और न ही अच्छा इलाज हो रहा है। इधर, उसके परिजनों ने जिला प्रशासन और सरकार से गुहार लगाई है। परिजनों का कहना है कि उनका बेटा अजय कुमार पिछले साल मलेशिया में जॉब के लिए गया था। अब वह बीमार चल रहा है, लेकिन उसकी कोई देखभाल नहीं कर रहा है।

यह भी पढ़ें: Corona संक्रमण के कारण अभी नहीं खुलेंगे Schools, सिर्फ शोध छात्र-छात्राओं को मिलेगी ये छूट

परिजनों ने बताया कि उसकी काफी दिनों से तबीयत खराब चल रही है, लेकिन उनकी कोई नहीं सुन रहा है। वे दर-दर भटक रहे हैं। हस्तिनापुर क्षेत्र के गांव बस्तोरा निवासी शिव कुमार का कहना है कि उनका बेटा अजय कुमार 2019 से मलेशिया के जिला कलंग शहर बांद्रापुत्रा में टॉप ए प्राइवेट लिमिटेड कंपनी में कार्य कर रहा है। अब वह काफी दिनों से गंभीर रूप से बीमार है। उसकी हालत चिंताजनक बनी हुई है। वह अपने घर आना चाहता है, लेकिन वहां की सरकार उसका सही से इलाज नहीं करा रही है और न ही भारत आने के लिए कोई व्यवस्था कर रही है।

यह भी पढ़ें: सोते परिवार पर नशीला स्प्रे डालने के बाद 50 तोले सोना और लाखों की नकदी ले उड़े बदमाश

परिजनों का कहना है कि वह इतना बीमार है कि अगर कुछ दिन और वहां रहा तो उसका बचना भी संभव नहीं है। उनका कहना है कि यदि उनके जमीन भी गिरवी रखनी पड़ी तो वे इसके लिए भी तैयार हैं। उन्होंने जिला प्रशासन के अधिकारियों से अपने बेटे को वापस लाने की गुहार लगाई है। परिजनों का कहना है कि वह पिछले डेढ़ महीने से अपने बेटे को वापस लाने की मांग कर रहे हैं, लेकिन उनकी सुनवाई नहीं की गई। अपने बेटे की जान बचाने के लिए उन्होंने केंद्र सरकार से भी मांग की है।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here