कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रशीद मसूद का निधन, कोरोना से पीड़ित थे पूर्व केन्द्रीय मंत्री

कोरोना संक्रमण के कारण आम और खास को ​​काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है। कोरोना की चपेट में कई राजनीतिक लोगों को जिन्दगी से हाथ धोना पड़ा है। सोमवार को ​कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रशीद मसूद का निधन हो गया। उन्हें कोरोना हुआ था और वे ठीक भी हो गए थे, लेकिन अचानक उनकी तबियत बिगड़ी और सोमवार की सुबह उनका निधन हो गया।

0
257

सहारनपुर। पूर्व केंद्रीय मंत्री काजी रशीद मसूद कोरोना से जिंदगी की जंग हार गए। उनका निधन आज सुबह रूडकी में हुआ। काजी रसीद मसूद कुल नौ बार लोकसभा और राज्यसभा सदस्य रह चुके हैं। करोना पॉज़िटिव होने के चलते उपचार के लिए उनको दिल्ली के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। काज़ी रशीद मसूद पहले से ही हृदय और किडनी संबंधी रोग से ग्रस्त थे। उनकी सेहत में कुछ सुधार हुआ था। हालत बिगड़ने पर उन्हें रुड़की के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां सोमवार की सुबह उनका निधन हो गया।

यह भी पढ़ें: Corona से यूपी के अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक और पूर्व एमएलसी का निधन

सोमवार की शाम पांच बजे उनके पैतृक निवास स्थल गंगोह स्थित कब्रिस्तान में शव सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा। गौरतलब है कि काजी रशीद मसूद 1977 में पहली बार जनता पार्टी के टिकट पर सांसद चुने गए थे। उस समय उन्होंने सहारनपुर लोकसभा सीट से ही चुनाव लड़ा था। इसके बाद 1980, 1989, 1991 और 2004 में भी वह सहारनपुर लोकसभा सीट से ही सांसद चुने गए, जबकि 1985, 2009 और 2012 में वह राज्यसभा के सदस्य रहे। 1990 में पूर्व प्रधानमंत्री वीपी सिंह के नेतृत्व वाली सरकार में वह स्वास्थ्य मंत्री रहे। वह 2012 में यूपी विधानसभा चुनाव के बाद कांग्रेस ने काज़ी रशीद मसूद को राज्यसभा सदस्‍य बनाया और केंद्रीय मंत्री का दर्जा देते हुए एपीडा का चेयरमैन बनाया था। उन्होंने पहला लोकसभा चुनाव इमरजेंसी के तुरंत बाद 1977 में लड़ा था। वह जनता पार्टी के टिकट पर चुनाव मैदान में कूदे और जीत दर्ज की। इसके बाद जनता पार्टी (सेक्यूलर) में शामिल हो गए।

यह भी पढ़ें: Meerut में Corona के नए 134 केस मिले, संक्रमितों का आंकड़ा पहुंचा ​10,000 के पास

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here