Exam की तैयारी पूरी, रुम में बैठेंगे एक तिहाई students, सोशल डिस्टेंसिंग रखा जाएगा पूरा ध्यान

सोशल डिस्टेसिंग का पूरा ध्यान रखकर कराई जाएंगी परीक्षा, students को सेनेटाइजर, मास्क और पानी की बोतल लानी होगी साथ

0
219

मेरठ। covid -19 infection के बीच एक सितंबर यानि मंगलवार से ccsu के exam शुरु हो रहे हैं। universeity ने eaxam की तैयारी पूर्ण कर ली है। मेरठ और सहारनपुर मंडल मे करीब एक लाख नौ हजार अभ्‍यर्थी इस परीक्षा में शामिल होंगे। जिसके लिए 210 eaxam center बनाए गए हैं। परीक्षा से एक दिन पहले सोमवार को सभी कॉलेजों में स्टूडेंट के बीच शारीरिक दूरी बनाए रखने के लिए गोले लगाए गए हैं।मेरठ कॉलेज ने अपने सभी शिक्षकों को मास्‍क, गल्‍बस दिया है। स्टूडेंट को एक गेट से ही प्रवेश दिया जाएगा। सभी परीक्षा केंद्रों पर स्टूडेंट की जांच के बाद ही परीक्षा कक्ष में भेजा जाएगा। स्टूडेंट को अपने साथ मास्‍क और सैनिटाइजर लेकर आना होगा। universeity में सबसे पहले यूजी और पीजी वार्षिक प्रणाली की परीक्षा शुरू हो रही है। मुख्‍य परीक्षा तीन पालियों में है। पहली पाली सुबह आठ बजे से दस बजे, दूसरी पाली साढ़े ग्‍यारह बजे से डेढ़ बजे और तीसरी पाली ढाई बजे से साढ़े चार बजे के बीच है। पहले दिन बीए, एमए, एमकाम के अभ्‍यर्थियों की दूसरी पाली में परीक्षा है।

Former President Pranab Mukherjee नहीं रहे, 84 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

इस बार परीक्षा में स्‍नातक और परास्‍नातक दोनों में प्रश्‍नों की संख्‍या कम की गई है। इसमें स्‍नातक अंतिम वर्ष के स्टूडंब् को बहुविकल्‍पीय आधारित परीक्षा में 100 प्रश्‍नों में से केवल 75 प्रश्‍नों का उत्‍तर देना होगा। डेढ़ घंटे में इन प्रश्‍नों का उत्‍तर देना होगा।परास्‍नातक अंतिम वर्ष में तीन घंटे की जगह दो घंटे का पेपर होगा।इसबार परीक्षा में पहले की अकॉडिZग एक तिहाई ही स्टूउेंट को रुम में बैठाया जाएगा, इनमे ंयदि कोई कमरे में 60 बैठते थे तो उनको अब 20 कर दिया गया है, सोशल डिस्टेंस का मास्क का पूरा ध्यान रखना होगा ये कहा गया है। इसके साथ ही परीक्षार्थियों की स्क्रीनिंग होगी व तेज तापमान वालों को अलग बैठाया जाएगा। इसके साथ ही अपना खाने का टिफिन व पानी की बोतल खुद लेकर आने को बोला गया है, इसबार बयोमैट्रिक अटैंडंस भी नही की जाएगी।

सड़क हादसे में पांच लोगों की मौत, ड्राइवर को नींद की झपकी लगने से हुआ हादसा

कोरानेाकाल को देखते हुए वीडियों कॉलिंग के जरिए सोमवार को वीसी प्रो. तनेजा ने एक कार्यपरिषद की बैठक का आयोजन किया, जिसमें जो परीक्षाएं स्थगित कर दी गई थी, उन परक्षाओं को संपूर्ण करने के लिए केद्रों को सेनाटाइजर, थर्मल स्क्रीनिंग के लिए यूनिवर्सिटी द्वारा संचालित बनाए गए केंद्रों को के द्वाा किए जाने वाले व्यय में वृद्धि करने का निर्णय लिया है।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here