मथुरा। हाथरस केस (Hathras Case) के बाद ‘जस्टिस फॉर हाथरस’ (Justice For Hathras) नाम से वेबसाइट (Website) बनाकर भड़काऊ पोस्ट डालकर उत्तर प्रदेश (UP) में दंगा फैलाने की साजिश में चार लोगों को मथुरा टोल प्लाजा (Mathura Toll Plaza) के पास से गिरफ्तार किया है। इनमें बहराइच का ​वह छात्र मसूद भी शामिल है जो जामिया यूनिवर्सिटी दिल्ली (Jamia Millia Islamia University Delhi) से एलएलबी (LLB) की पढ़ाई कर रहा है और पीएफआई (PFI) से जुड़ा हुआ है। बहराइच पुलिस (Police) मथुरा पुलिस से संपर्क करके छानबीन करने में जुटी हुई है। जरवलरोड थाना क्षेत्र के बैराकाजी निवासी मसूद जामिया यूनिवर्सिटी का छात्र है। वह वहीं रहकर पढ़ाई कर रहा था।

यह भी पढ़ें: Jayant Chaudhary पर लाठीचार्ज से Jat Samaj में आक्रोश, शर्मनाक और अमानवीय बताकर किया प्रदर्शन

मंगलवार को वह दिल्ली से हाथरस के लिए अपने तीन अन्य साथियों के साथ निकला था। मथुरा जनपद में टोल प्लाजा के पास चेकिंग के दौरान पर रोका गया। पूछताछ के दौरान पीएफआई के सदस्य का जुड़ा होना पाया गया। गाड़ी की तलाशी पुलिस ने ली तो हाथरस केस से जुड़े कुछ पोस्टर भी बरामद हुए। पुलिस के अनुसार छात्र मसूद अपने ​तीनों साथियों के साथ दिल्ली से हाथरस जा रहा था। वहां पहुंचकर इनका लोगों के बीच बैठकर हाथरस से जुड़े मामले पर लोगों का ध्यान भटकाकर दंगा कराने का पूरा प्रयास था।  एएसपी नगर कुंवर ज्ञानंजय सिंह ने बताया कि पकड़ा गया युवक पीएफआई का सदस्य है। वह सोशल मीडिया पर ‘हाथरस फॉर जस्टिस’ के नाम से वेबसाइट बनाकर भड़काऊ पोस्ट डाल रहा था। दंगे फैलाने की साजिश रच रहा था। मसूद दिल्ली के जामिया यूनिवर्सिटी में एलएलबी का छात्र है। बीते दो साल से यह कैंपस फ्रेंड ऑफ इंडिया से जुड़ा है।

यह भी पढ़ें: Gangrape के बाद पंचायत ने एक आरोपी से करा दिया Nikah, पति के दोस्त संबंध बनाने का डाल ​रहे दबाव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here