बागपत। Baghpat New, जनपद में अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हैं कि उनमें पुलिस (UP Police) का खौफ सिरे से गायब है। दस दिन पहले बड़ौत (Baraut) के सीमेंट व्यवसायी प्रदीप आत्रेय की लूट के बाद हत्या के बाद दशहरे (Dussehra) के ठीक एक दिन बाद सोमवार की सुबह बड़ौत में ही एक लोहा व्यापारी (Loha Vyapari) को अगवा कर लिया। इससे जिला और पुलिस प्रशासन (Baghpat Administraion) के अफसरों में अफरातफरी मच गई। एसपी अभिषेक सिंह (SP Abhishek Singh) और एएसपी मनीष कुमार मिश्र (ASP Manish Kumar Mishra) घटना के बाद व्यापारी के घर पहुंचे और परिजन से घटना की जानकारी ली।

यह भी पढ़ें: Meerut: घर में घुसकर तमंचे के बल पर युवती के साथ Gang Rape, तीन दिन तक घटना दबाए रही पुलिस

बड़ौत में व्यापारी आदेश जैन सुबह चार बजे खत्री गढ़ी में अपने घर से भगवान महावीर मार्ग स्थित अपनी दुकान पर गाड़ी से सामान उतरवाने जा रहे थे। उसके काफी देर बाद जब वह वापस नहीं लौटे तो परिजन के पास फोन आया और व्यापारी को छोड़ने की एवज में एक करोड़ फिरौती देने की बात कही, जिसके बाद परिजनों में हड़कंप मच गया। उन्होंने इस घटना की जानकारी पुलिस को दी।

यह भी पढ़ें: परिवहन मंत्री Ashok Katariya ने गांवों में लगाई Chaupal, कहा- PM Modi-CM Yogi ​के नए भारत पर मुहर लगाने का समय

कोतवाली प्रभारी अजय कुमार शर्मा आनन-फानन में व्यापारी के घर पहुंचे परिजन से बातचीत की। हालांकि अभी इस बारे में व्यापारी के परिजन खुलकर कुछ भी बताने को तैयार नहीं है कि किसके पास फोन आया था और किस बदमाश ने फोन किया है। बहरहाल पुलिस घटना की जांच में जुट गई है। कोतवाली प्रभारी ने बताया कि अभी कुछ नहीं कहा जा सकता। परिजनों का कहना है कि रंगदारी के लिए अपहरण किया गया है। मोबाइल फोन पर कॉल करके एक करोड़ रुपये की रंगदारी मांगी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here