Bijnor में गुलदार का खौफ, बछिया बनीं शिकार, वन विभाग की टीम ने डाला डेरा

बिजनौर के मंडावली क्षेत्र में गुलदार ने पशुशाला की बछिया को शिकार बनाया है। इससे ग्रामीणों में खौफ बना हुआ है और वे खेतों पर काम करने भी नहीं गए। वन विभाग की टीम गुलदार को तलाश कर रही है।

0
171

बिजनौर। बिजनौर के ग्रामीण क्षेत्रों में इन दिनों गुलदार का आतंक है। गुलदार मंडावली क्षेत्र में शनिवार की रात आया था, इसका रविवार की सुबह पता चला, जब गाय की दो बछिया यहां नदारद मिलीं। बताते हैं कि जनपद के मंडावली क्षेत्र के गांव नियामतपुर में एक पशुशाला में घुसकर गुलदार ने अपना शिकार बनाया। गुलदार के क्षेत्र में घूमने की जानकारी मिलने के बाद ग्रामीणों में खौफ बना हुआ है।

यह भी पढ़ें: Bijnor में सरकारी गाड़ी नहर में गिरी, Roorkee की तहसीलदार समेत तीन की मौत, प्रशासन में मचा हड़कंप

बताया जा रहा है कि मंडावली के गांव नियामतपुर के कौशलपाल सिंह ने गांव के समीप पशुशाला बना रखी है, जिसमें तीन गाय और दो बछिया बंधी थी। शनिवार की देर रात पशुशाला में घुसकर गुलदार ने दो बछियों को अपना निवाला बना लिया, जबकि एक बछिया को पशुशाला से खींचकर करीब 100 मीटर दूरी पर गन्ने के खेत में ले गया था। क्षेत्र में गुलदार होने की सूचना ग्रामीणों ने वन विभाग को दी है। वन विभाग की टीम मौके पर पहुचीं और ग्रामीणों के साथ गन्ने के खेतों में छानबीन की जहां बछिया के अवशेष मिले। गुलदार के भय से किसान अपने खेतों पर चारा लेने भी नहीं जा पा रहे हैं। कई बार ग्रामीणों ने गुलदार को पकड़वाने की मांग वन विभाग से की, लेकिन कोई सुनवाई नहीं की गई। वन विभाग की टीम गुलदार की तलाश कर रही है, जबकि ग्रामीणों में खौफ बना हुआ है।

यह भी पढ़ें: रिटायर्ड हेड कांस्टेबल की बेटी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, हुआ कुछ ऐसा कि श्मशान घाट से शव पहुंच गया मोर्चरी

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here