अमरोहा: न्यायिक अधिकारी भी हुए ‘चौहान मॉडल ऑफ पर्यावरण’ के मुरीद, पत्नी संग किया पौधारोपण

0
46

अमरोहा। पर्यावरण वॉरियर, ऑजोन मैन और पर्यावरण प्र्रहरी और न जानेें कितने ऐसे ही नामों से विख्यात अमरोहा की मंडी धनौरा तहसील के SDM मांगेराम चौहान पर्यावरण संरक्षण की मुहिम जोर पकड़ती जा रही है। इसी का नतीजा है कि प्रदेश के अन्य अफसर भी उनसे प्रभावित होकर उनकी इस मुहिम में शामिल होने लगे हैं। इसी क्रम में शनिवार को एक न्यायिक अधिकारी ने अपनी पत्नी के साथ मिल कर तहसील प्रांगण में सात फलदार वृक्षों के पौधे लगाए। खुद SDM मांगेराम भी इस मौके पर मौजूद रहे।

 Amroha: पर्यावरण प्रेमी SDM मांगेराम चौहान को मिली धनौरा तहसील की जिम्मेदारी

बीती 23 मई को शादी

दरअसल, आंध्र प्रदेश के रहने वाले न्यायिक अधिकारी ( PCS J ) सिद्धि जयप्रकाश मंडी धनौरा तहसील में ग्रामीण न्यायालय के न्यायिक अधिकारी हैं। बीती 23 मई को उनकी शादी दिल्ली विश्वविद्यालय की प्रोफेसर संचिना ढींगरा के साथ हुई। इस शादी में अन्य अधिकारियों के साथ ही SDM मांगेराम चौहान को निमंत्रण दिया गया था, लेकिन मांगेराम काम की व्यस्तता के चलते विवाह समारोह में शामिल नहीं हो पाए और उन्होंने फोन पर ही वर-वधू को अपनी शुभकामनाएं भेजी।

Amroha: पर्यावरण सुरक्षा का केंद्र बनी SDM की कोर्ट, पौधे लगाने की शर्त पर मिल रही जमानत

Ozone Man मांगेराम को मिला Bollywood का साथ, पर्यावरण की मुहिम में जुड़ना चाहते हैं ये कलाकार

तहसील परिसर में ही सात पौधे लगाए

SDM मांगेराम चौहान ने अपने बधाई संदेश में नवदंपति से वैवाहिक जीवन की शुरुआत पौधारोपण के साथ करने की अपील की और सात पौधे लगाने को कहा। मांगेराम ने कहा कि अगर वो ऐसा करते हैं तो उनको शादी में शामिल होने जैसा आनंद प्रतीत होगा। वहीं, नवदंपति ने SDM मांगेराम के प्रस्ताव को स्वीकार करते हुए अपना वादा निभाया। शनिवार को जब नवदंपति अमरोहा पहुंचे तो सबसे पहले वो SDM मांगेराम से मिलने मंडी धनौरा तहसील पहुंचे और उनकी उपस्थिति में तहसील परिसर में ही सात पौधे लगाए।

 लोगों में प्रकृति प्रेम की भावना भरता UP एक अफसर, समझाता है बूंद-बूंद का महत्व

क्या है ‘चौहान मॉडल ऑफ पर्यावरण’

मांगेराम चौहान ने न केवल अपने प्रयासों से केवल अमरोहा के नक्शे में हरियाली का रंग भर दिया है, बल्कि अपने प्रदेश और देश को पर्यावरण संरक्षण का एक नायाब मॉडल भी​ गिफ्ट किया है। अमरोहा के चौहान मॉडल नाम से मशहूर इस मॉडल ने पर्यावरण संरक्षण की मानों जैसे दिशा ही बदल दी है। यह ‘अमरोहा के चौहान मॉडल का ही नतीजा है कि जिले में अब तक 10 हजार से ज्यादा पौधे लगाए चुके हैं। दरअसल, मांगेराम चौहान का यह मॉडल चर्चा में अचानक तब आया जब उन्होंने अपनी तैनाती के दौरान तहसील में पर्यावरण संरक्षण की शपथ दिलाना शुरू कर दिया।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here