बुजुर्ग की मौत होने के बाद परिजनों ने चिकित्सक पर लगाए आरोप, अस्पताल में जमकर तोड़फोड़

70 साल के बुजुर्ग मरीज की मौत के बाद परिजनों ने चिकित्सक पर लापरवाही का आरोप लगाया और अस्पताल में जमकर तोड़फोड़ भी की। पुलिस ने दोनों पक्षों को थाने में बुलाकर सुलहनामा कराया।

0
243

मेरठ। सोेमवार की रात बहसूमा के अस्पताल में भर्ती कराए गए बुजुर्ग की मंगलवार को मौत होने के बाद परिजनों ने अस्पताल पर आरोप लगाते हुए यहां जमकर तोड़फोड़ की। परिजनों का कहना है चि​कित्सक की लापरवाही के कारण उनके मरीज की जान गई है। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर समझा-बुझाकर मामला शांत किया।

यह भी पढ़ें: अस्पताल की कर्मचारी का अपहरण करने के बाद सामूहिक दुष्कर्म, गंभीर हालत में सड़क पर फेंककर फरार

सोमवार की रात बहसूमा में कस्बा निवासी अमीन अशोक गिरि (70 वर्ष) को बुखार से पीड़ित होने पर परिजनों ने प्रदीप मेमोरियल अस्पताल में भर्ती कराया था। मंगलवार की सुबह मरीज की हालत बिगड़ी और इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। इस पर परिजनों ने चिकित्सकों और स्टाफ पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा खड़ा कर दिया और उन्होंने अस्पताल में तोड़फोड़ भी की। इसके बाद मृतक के परिजनों ने बहसूमा थाने में पहुंचकर चिकित्सक को गिरफ्तार करने की मांग की।

यह भी पढ़ें: CCSU Meerut: कोरोना का असर कालेजों में एडमिशन के रजिस्ट्रेशनों पर, अब इस तारीख तक कर सकते हैं आवेदन

इस दौरान पुलिस ने चिकित्सक को थाने बुला लिया। चिकित्सक ने भी अपने ऊपर मारपीट व अस्पताल में तोड़फोड़ करने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है। थाने में दोनों के बीच समझौते की बात हुई। सीओ उदय प्रताप सिंह ने बताया कि दोनों पक्षों के बीच समझौता हो गया है। मृतक के परिजन अंतिम संस्कार करने के लिए जा रहे हैं और मृतक के पुत्र अनिल कुमार का हरिद्वार से आने का इंतजार है।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here