Amroha: पर्यावरण संरक्षक बनकर चमक रहा एक सरकारी अफसर, लोग देने लगे मिशाल

एसडीएम मांगेराम चौहान पौथारोपण के साथ जल संचय करने के लिए भी कर रहे लोगों को जागरुक

0
68

Amroha:आज जिस प्रकार से पृथ्वी का तापमान लगातार बढ़ता चला जा रहा है । कहीं अत्यधिक बाढ़ तो कहीं अत्यधिक सूखा बढ़ना प्रकृति में होते हुए बदलाव को आसानी से समझा जा सकता है। धरती की तपन को देखते हुए sdm मांगेराम चौहान ने अपने स्तर धरती के तापमान को घटाने का बीडा उठाया हुआ है। मांगेराम चौहान के विचार की चमक अब चारों और फैल चुकी है।

पर्यावरण वॉरियर्स की फौज

दरअसल, यहां जिक्र हो रहा है उपजिलाधिकारी मांगेराम चौहान का। मांगेराम चौहान फिलहाल उत्तर प्रदेश के अमरोहा जिले में तैनात हैं और नौगांवा तहसील संभाल रहे हैं। यह मांगेराम के प्रकृति प्रेम का ही नतीजा है कि उनके प्रयास से जिले में अब तक हजारों पौधे लगाए जा चुके हैं। उनकी सबसे बड़ी खासियत यह है कि वह जिस भी तहसील में जाते हैं…पर्यावरण वॉरियर्स की फौज खड़ी कर देते हैं।

ताकि.. न आए जल संकट

मांगेराम बताते हैं कि आज जिस तरह से जल की बर्बादी हो रही है, उससे तो लगता है कि हमारी आने वाली पीढ़ियों को जल संकट से जूझना पड़ेगा। अब चूंकि हमारे देश की 70 प्रतिशत आबादी गांवों में वास करती है, इसलिए जल संरक्षण की शुरुआत भी यहीं से होनी चाहिए। आजकल मांगेराम चौहान ने पौधारोपण के साथ जल संचय करने का भी बीड़ा उठाया हुआ है। वे गांव-गांव घूमकर व तहसील में आने वाले लोगों को जल संचय करने का तरीके बताकर जन-जागरण का भी काम कर रहे हैं।

अन्य अधिकारी भी मूरीद

sdm मांगेराम चौहान के पर्यावरण के प्रति प्रेम को देखकर अन्य अफसर भी मूरीद हैं। कई अधिकारियों व जन प्रतिनिधियों ने खुले मंच से भी मांगेराम चौहान की तारीफ की है। आज  उपजिलाधिकारी श्री मांगे राम चौहान का नाम किसी परिचय का मोहताज नहीं है । उनके कार्यों का प्रकाश धीरे धीरे इतना फैल चुका है कि लोग बढ़-चढ़कर वृक्षारोपण की मुहिम में हिस्सा ले रहे हैं ।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here