समाज में फैली असमानता को उखाड़ फेंकने की जरुरतः वीरेन्द्र

विचार गोष्ठी में वीएचपी पदाधिकारियों ने रखे विचार, एकजुट होने का आह्वान किया

0
325

mawana। वर्तमान समय में सामाजिक समरसता बहुत जरुरी है। हिन्दू समाज में फैली असमानता को जड़ से उखाड़ फेंकने के लिए संगठन को कदम बढ़ाना होगा। सब हिन्दू एक रक्त एक माता की संतान हैं, कोई ऊंच-नीच नहीं।  एकात्म हिन्दू मूल मंत्र को सार्थक करने और जाति व्यवस्था के समाज में फैले दानव से निपटने का समय अब आ गया है। ये बात विश्व हिन्दू परिषद के क्षेत्रीय सामाजिक समरसता प्रमुख वीरेन्द्र  ने संगठन के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कही।

West UP में कृषि विधेयक के खिलाफ ​किसानों की हुंकार, चक्का जाम ने थाम दिया सबकुछ

शुक्रवार को विश्व हिन्दु परिषद द्वारा पंचायती धर्मशाला मवाना में सामाजिक समरसता विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। बैठक में समरसता प्रमुख वीरेन्द्र ने कार्यकर्ताओं ने जोश भरने के साथ ही। संगठन की जिम्मेदारी के बारे में विस्तार से बताया। उन्होने कहा कि हिन्दुओं को अब जातियों से बाहर निकालने की जरुरत है। जिस प्रकार अंसारी से पंसारी तक और खान से पठान तक सभी मुसलमान होते हैं। ठीक उसी प्रकार हिन्दुओं को भी जाती भूलकर केवल हिन्दु बनना होगा।उन्होने कहा कि आर्थिक रूप पिछड़े लोगों को एकजुट होकर रोजगार का सृजन करना चाहिए, साथ ही आगामी वाल्मीकि जयंती अंबेडकर जयंती आदि पर समरसता दिवस मनाने का भी आह्वान  उन्होने किया। बैठक को  प्रांत मंत्री राजकुमार डूंगर  ने ऐतिहासिक दृष्टिकोण से और विविध समाज के लोगों की जीवनी से समरस समाज के संकल्प के बारे में विचार व्यक्त किए।

कमरे में पति फांसी पर लटका मिला तो पत्नी का शव नग्न अवस्था में खून से लथपथ, पुलिस भी रह गई हैरान

बैठक की अध्यक्षता उज्जवल रस्तोगी व संचालन सह जिला मंत्री मनीष शर्मा ने किया । कार्यक्रम में प्रमुख रूप से प्रांत प्रशिक्षण प्रमुख आशु त्यागी, जिला उपाध्यक्ष सौरभ शर्मा, महेश आर्य, उज्जवल रस्तोगी, मनीष शर्मा, योगेंद्र जाटव अमित ढाका. मोनू जाटव, अंकित जाटव, नितिन प्रजापति, हरविंदर छाबड़ा ,अश्वनी राहुल सौरभ, मुकेश शर्मा ,अर्जुन आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Saharanpur: 7 साल के भतीजे की अपहरण के बाद हत्या में चाचा समेत तीन गिरफ्तार, ये वजह आयी सामने

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here