‘लोकतंत्र बचाओ’ रैली के जरिए दमखम दिखाने की कोशिश, जयंत चौधरी समेत कई नेताओं ने योगी सरकार पर साधा निशाना

हाथरस केस के पीड़ितों से मिलने गए रालोद उपाध्यक्ष जयंत चौधरी पर लाठीचार्ज के बाद​ मुजफ्फरनगर में ​रालोद ने गुरुवार को 'लोकतंत्र बचाओ' रैली का आयोजन किया गया। इसमें अन्य विपक्षी दलों के नेता भी शामिल हुए। रैली में योगी सरकार को घेरा गया।

0
184

मुजफ्फरनगर। गुरुवार को मुजफ्फरनगर (Muzaffarnagar) के जीआईसी मैदान (GIC Ground) पर रालोद (RLD) की ‘लोकतंत्र बचाओ’ रैली (Loktantra Bachao Rally) में रालोद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जयंत चौधरी (Jayant Chaudhary), कांग्रेस नेता इमरान मसूद (Imran Masood), कांग्रेस सांसद दीपेंद्र हुड्डा (Dipendra Hudda), हरियाणा के विधायक अभय सिंह चौटाला (Abay Singh Chautala), भाकियू अध्यक्ष नरेश टिकैत (Naresh Ticait) समेत तमाम नेताओं ने योगी सरकार (Yogi Government) पर निशाना साधा। इस मौके पर जयंत चौधरी ने कहा कि हाथरस में योगी सरकार की पुलिस का लाठीचार्ज (Police Lathicharge) बड़ी साजिश का हिस्सा है। किसान राजनीति (Kisan Politics) समाप्त करने का प्रयास किया जा रहा है। कांग्रेस नेता ​इमरान मसूद ने कहा कि राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) पर हमला किया जाता है। हाथरस में जयंत चौधरी पर लाठीचार्ज किया गया। यह बहुत ही शर्मनाक घटना है। देश में किसानों का उत्पीड़न हो रहा है। कृषि कानून लाकर किसानों की आवाज दबाने की कोशिश की गई है।

यह भी पढ़ें: Indian Air Force Day 2020: सहारनपुर में वायु सेना के हेलीकॉप्टर की खेत में इमरजेंसी लैंडिंग, पायलट सुरक्षित

हरियाणा के विधायक अभय सिंह चौटाला ने कहा कि देश में किसानों पर जुल्म किया जा रहा है। चौटाला ने कहा कि जिस तरह लाठियों से किसान की जुबान दबाए जाने का काम किया है। उन्होंने कहा ये सरकार किसान को उसकी जमीन से बेदखल करना चाहती है। कांग्रेस सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि जयंत चौधरी का क्या कसूर था जो उन पर लाठीचार्ज किया गया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अपराधी तो खुले घूम रहे हैं, लेकिन अगर कहीं कोई नेता पीड़ित के आंसू पूछने जाता है तो वह अपराधी बन जाता है।

यह भी पढ़ें: Crime Against Woman: कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ देकर दुष्कर्म, अधेड़ ने युवती से किया रेप का प्रयास

रैली से पहले ​प्रशासनिक और पुलिस अफसरों ने ड्रोन कैमरे से पूरे रैली स्थल की निगरानी की।रैली स्थल सैनिटाइजेशन कराने के बाद मास्क देकर ही प्रवेश दिया गया। किसान और कार्यकर्ता बस, ट्रैक्टर-ट्रॉलियां व अन्य वाहनों से रैली में पहुंचे। खाप चौधरियों, भाकियू, सपा, कांग्रेस और शिवसेना ने भी रैली को समर्थन दिया है। पुलिस-प्रशासन ने रालोद की रैली के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था मजबूत बनाई। साथ ही एडीजी राजीव सभरवाल, डीआईजी और मंडलायुक्त रैली के मद्देनजर डेरा डाले रहे। रैली में जनपद के साथ-साथ आसपास के जनपदों के साथ ही हरियाणा से भी लोकदल के कार्यकर्ता भी पहुंचे।

यह भी पढ़ें: Weather Alert: West UP में सुबह की ठंड के साथ बदला मौसम, इस बार पड़ेगी कड़ाके की सर्दी

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here