समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा पर निशाना साधा

0
99

लखनऊ| समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा पर निशाना साधा और कहा कि भाजपा के वादों और प्रशासन में सुशासन के दावों की पोल खुलने लगी है। किसानों का भाजपा से मोहभंग हो गया है। अखिलेश यादव ने यहां अपने जारी बयान में कहा कि, “उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री का स्टार प्रचारक का तमगा भी फीका पड़ने लगा है। किसानों का भाजपा से मोहभंग हो गया है, क्योंकि उन्हें पूरा विश्वास हो चला है कि उनके साथ किए गए वादे कभी पूरे नहीं होंगे। किसान को फसल की लागत का सही मूल्य नहीं मिला। एमएसपी और आय दुगनी करने के नारे थोथे सिद्ध हो चुके हैं। किसानों का भविष्य अंधेरी गुफा में कैद है।”

वेब सीरीज ‘मिर्जापुर’ के खिलाफ मिर्जापुर में मामला दर्ज

उन्होंने कहा कि, “अभी एक सर्वे से यह साबित हुआ है कि मुख्यमंत्रियों के कामकाज की लिस्ट में उत्तर प्रदेश का दसवां नम्बर भी नहीं है। इस सर्वे से स्पष्ट है कि भाजपा के मुख्यमंत्री अपनी जमीन खोते जा रहे हैं। यूपी के मुख्यमंत्री अब तक अपनी प्रशंसा में जो दावे करते रहे हैं उनकी कलई भी इस सर्वेक्षण से खुल जाती है।” अखिलेश ने कहा कि, “भाजपा सरकार में किसानों का सबसे ज्यादा उत्पीड़न हुआ है। उन्हें न तो धान का समर्थन मूल्य मिला है और नहीं समय से उसका भुगतान हुआ है। किसान का धान 900 से 1100 सौ रुपये में बिका है। गन्ना किसानों के बकाया का भुगतान नहीं मिला है।”

लखनऊ में ‘तांडव’ के खिलाफ FIR दर्ज

उन्होंने कहा कि फसल बीमा में किसान को नहीं बल्कि बीमा कम्पनियों को फायदा हुआ है। ज्यादातर जगह धान केंद्र खुले नहीं, इन केंद्रों में किसान को अपमानित किया गया। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि, “सरकार धान खरीद का दावा करती है, जबकि वास्तविकता में 6 प्रतिशत ही धान खरीद किसानों से हुई है, 94 प्रतिशत धान खरीद बिचैलियों से की गई है। यानी उत्पादन का कुल 6 प्रतिशत एमएसपी से खरीदा गया है। किसानों को झूठे आंकड़ों से ही बहकाया जा रहा है।”

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here