विम्स में 163वें दिन 50 संक्रमित मरीजों ने दी Corona को मात, कोरोना इलाज में सबसे अग्रणी हॅास्पिटल बना विम्स

सबसे ज्यादा कोरोना के मरीज ठीक करने वाला हॉस्पिटल बना विम्स- डॉ0 सुधीर गिरि, चैयरमेन, वेंक्टेश्वरा समूह

0
234

मेरठ/गजरौला। ’’वेंक्टेश्वरा समूह के मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल ’’विम्स’’ से 163वें दिन आज फिर पचास (50) संक्रमित मरीजो ने कोरोना को मात दी। कोरोना के सफलतम उपचार में ’’वेंक्टेश्वरा समूह’’ के ’’विम्स मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल’’ ने आज फिर शत्-प्रतिशत स्वस्थ रिकवरी के साथ पचास कोरोना संक्रमित मरीजो की रिपोर्ट निगेटिव आने पर उनको उपहार एवं स्मृति चिन्ह देकर सकुशल उनके घर के लिए रवाना किया। विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉ0 सुधीर गिरि ने कहा कि हमारे डॉक्टर्स एवं पैरामेडिकल स्टॉफ ने दिन रात कोरोना संक्रमित मरीजो का निशुल्क उपचार एवं देखभाल कर मानव सेवा की एक शानदार मिसाल पेश की है। हमने किसी भी सरकारी सहायता के बिना अभी तक सभी 588 कोरोना संक्रमित मरीज को अभी तक बिल्कुल ठीक कर दिखाया है। हमने पूरे देश में किसी भी सरकारी/निजी हस्पतालो के मुकाबले अभी तक बिना किसी डेथ के शत्-प्रतिशत रिकवरी के साथ सभी कोरोना संक्रमितो को ठीक कर दिखाया है जो एक वैश्विक रिकार्ड है।

पीएम जनधन योजना के बैंक खाते ने कैसे बदल दी है मीरा देवी की जिन्दगी? जानकर रह जाएंगे हैरान

विश्वविद्यालय के प्रतिकुलाधिपति डॉ0 राजीव त्यागी ने बताया कि हमने पिछले 163 दिनो में बिना किसी डेथ के विम्स में भर्ती कोरोना संक्रमित 588 मरीजो को पूरी तरह स्वस्थ कर एक नया विश्व रिकार्ड बनाया है, जिसको हमने लिमका बुक ऑफ वर्ड रिकार्ड एवं गिनीज बुक में दर्ज कराने के लिए भेजा है, एवं दिन-रात निस्वार्थ भाव से देश से कोरोना के खातमे के लिए पूरी टीम के साथ रात दिन काम कर रहे है। इस अवसर पर कुलपति डा0 पी0के0 भारती, मुख्यचिकित्सा अधीक्षक डॉ0 सुशील शर्मा, उपनिदेशक दूरस्थ शिक्षा डा0 अलका सिंह, डा0 प्रेम सागर साहनी, डॉ0 गोपाल यादव, आनन्द नागर, अरूण गोस्वामी एवं मीडिया प्रभारी विश्वास राणा आदि लोग उपस्थित रहे।

किसी बैंक में होने वाले घोटाले से ग्राहकों को सीधे क्या नुकसान होता है? खबर को पढ़कर आपको भी लग जाएगा पता

ये हुए ठीक

मुख्यचिकित्सा अधिक्षक डा0 सुशील शर्मा ने बताया कि आज ठीक होने वाले मरीजो में नसीर (30 वर्ष), जसवन्त सिंह (30 वर्ष), वाहिद (29 वर्ष), राजकुमार (26 वर्ष), फातिमा (35 वर्ष), सुमित (12 वर्ष), राम गोपाल (27 वर्ष), संजीव कुमार (44 वर्ष), घनश्याम (45 वर्ष), अजय (27 वर्ष), मौ0 राशिद (28 वर्ष), पूनम (40 वर्ष), सत्यपाल सिंह (32 वर्ष), मनोज (23 वर्ष), आदेश सैनी (30 वर्ष), विजय सिंह (22 वर्ष), अनिल (35 वर्ष), तिवारी (16 वर्ष), कुनाल (12 वर्ष), होराम (25 वर्ष), मिलिंद कुमार (16 वर्ष), शिव कुमार (35 वर्ष), प्रीति (22 वर्ष), किरनपाल (21 वर्ष), धर्मवीर (50 वर्ष), युवराज (17 वर्ष), अतुल (9 वर्ष), राजीव (25 वर्ष), कल्लू सिंह (37 वर्ष), हुकुम सिंह (25 वर्ष), रेखा (40 वर्ष), कंचन (16 वर्ष), उमरआलम (26 वर्ष), राहुल (30 वर्ष), सुदेश सिंह (32 वर्ष), सुभाष (40 वर्ष), मौ0 अदनान (11 वर्ष), गब्बर अब्बास (33 वर्ष), मौ0 जुबेर (20 वर्ष), जितेन्द्र (42 वर्ष), होरी (23 वर्ष), अर्जुन सिंह (28 वर्ष), लेखराज (35 वर्ष), नूर फातमा (26 वर्ष), गीता (28 वर्ष), रजनी (23 वर्ष), यशवी (12 वर्ष), नगमा (25 वर्ष), प्रीति (25 वर्ष), संगीता (25 वर्ष) थे।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here