Meerut: कुख्यात बद्दो की फरारी मामले को लेकर हाईकोर्ट में जनहित याचिका, जानिए पूरा मामला

करीब डेढ़ साल पहले पुलिस की कस्टडी से भागा ​ढाई लाख रुपये का इनामी कुख्यात बदमाश बदन सिंह बद्दो पुलिस की गिरफ्त से बाहर है।

0
182

मेरठ। करीब डेढ़ साल पहले पुलिस की कस्टडी से भागा ​ढाई लाख रुपये का इनामी कुख्यात बदमाश बदन सिंह बद्दो पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। बद्दो को पुलिस और नेताओं की मदद का आरोप लगाते हुए समाजवादी पार्टी के नेता अभिषेक सोम ने हाईकोर्ट में ​जनहित याचिका दायर की है। साथ ही इस मामले में सीबीआई से जांच कराने की मांग की है।

यह भी पढ़ें: Meerut: एंटी करप्शन टीम ने बिछाया ऐसा जाल कि ​कानूनगो 20 हजार रिश्वत लेते धरा गया

सपा नेता अभिषेक सोम का कहना है कि जनहित याचिका के जरिए मामले की न्यायिक और सीबीआई जांच की मांग की है। विदित है कि डेढ़ साल पहले कुख्यात बद्दो को फतेहपुर जेल से गाजियाबाद पेशी पर लाया गया था, यहां से पुलिसकर्मी उसे मुकुट महल होटल लेकर आए। इसके बाद बद्दो अपने बेटे सिकंदर और गुर्गों की मदद से फरार हो गया था। सोम का आरोप है कि बद्दो उसे व उसके परिवार को धमकियां दे रहा है। याचिका में विशेष सचिव गृह, डीजीपी, आइजी और एसएसपी को पार्टी बनाया गया है।

यह भी पढ़ें: Muzaffarnagar: लापता विवाहिता की हत्या का जब खुला राज तो हर कोई रह गया हैरान, ये है पूरा मामला

पुलिस कस्टडी से फरार हुए कुख्यात गैंगस्टर बदन सिंह बद्दो को करीब डेढ़ साल बाद भी पुलिस पकड़ नही पाई। विदेश में सम्पत्ति बनाने वाले कुख्यात को पुलिस और सत्ताधारी नेताओ का संरक्षण मिलने का आरोप है। यही वजह है कि डेढ़ साल में पुलिस ने उसके खिलाफ कोई आर्थिक कार्रवाई भी नहीं की। सपा नेता अभिषेक सोम ने पुलिस और सरकार को पार्टी बनाते हुए बद्दो के खिलाफ हाईकोर्ट में जनहित याचिका दाखिल की, जिसे स्वीकार कर लिया गया है। 11 सितंबर को सुनवाई होगी।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here