मेरठ। कोरोना (Corona) संक्रमण के कारण सात महीने पहलेे बंद हुए स्कूल सोमवार (Schools Open On Monday) को खुल गए हैं। सात महीने से छात्र-छात्राएं घर पर ही हैं और उनकी आनलाइन कक्षाएं (Online Classes) चल रही थी। कक्षा नौ से बारह तक की कक्षाएं शुरू होने के दौरान शासन की कोरोना गाइडलाइन ​(Corona Guidelines) का भी काफी ख्याल रखा जा रहा है। इन बच्चों की कक्षाएं दो पालियों (Two Pali) में शुरू हुई हैं। पहली पारी सुबह 8.50 से 11.50 तक और दूसरी पाली 12.20 से 3.20 बजे तक चलेंगी। पहले दिन की पहली पारी में स्कूलों में पहुंचे बच्चों में खासा उत्साह रहा। स्कूलों के प्रधानाचार्यों (School Staff) और स्टाफ ने स्कूल आने वाले बच्चों का सैनिटाइज और टेंप्रेचर चेक करके ही ​कक्षाओं में जाने दिया। साथ ही शासन और डीएम मेरठ (DM Meerut) की गाइडलाइन का कड़ाई से पालन कराया गया।

इससे पहले डीएम के. बालाजी ने जिला विद्यालय निरीक्षक, सभी बोर्डों के इंटर कालेजों के प्रधानाचार्यों के लिए निर्देश जारी किए थे और कक्षा नौ से बारह तक के विद्यालयों में दो पालियों में पढ़ाई कराए जाने की बात कही थी। पहली पाली में कक्षा 9 व 10 के छात्र रहेंगे। जबकि दूसरी पाली में कक्षा 11 व 12 के छात्र रहेंगे। कॉलेज खोले जाने के संबंध में शासन द्वारा एसओपी जारी की गई। जिला विद्यालय निरीक्षक स्तर से ईमेल, व्हाट्सएप ग्रुप में शासन के दिशा निर्देश उपलब्ध कराए गए।

इस संबंध में 17 अक्टूबर को नेताजी सुभाष चंद्र बोस प्रेक्षागृह में माध्यमिक विद्यालयों के प्रधानाचार्य की बैठक भी की गई थी। जिसमें शासन द्वारा जारी की गई गाइडलाइन के अनुसार विद्यालयों के संचालन को लेकर निर्देश दिए गए थे। अपर प्रमुख सचिव माध्यमिक शिक्षा द्वारा विद्यालय में दो पालियों में छात्रों को बुलाए जाने के निर्देश दिए गए। प्रथम पाली सुबह 8:50 से 11:50 तक रहेगी। दूसरी पाली दोपहर 12:20 से 3:20 तक रहेगी। साथ ही यह भी निर्देश दिए गए हैं कि प्रत्येक छात्र.छात्रा को विद्यालय में प्रवेश के लिए सोशल डिस्टेंस का पालन कराया जाए तथा कक्षा में कम से कम 6 फीट की दूरी अवश्य रखी जाए। सोमवार को जब इंटर तक के विद्यालय खुले तो मुख्य गेट पर ही छात्रों के हाथ सैनिटाइज, मास्क और बॉडी ट्रेंप्रेचर चेक करके ही अंदर जाने दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here