शोषितों और पिछड़ों को न्याय दिलाने के थामा समाजवादी पार्टी का दामन: योगेश

0
100

मेरठ। मेरठ की एतिहासिक विधानसभा सीट हस्तिनापुर से कद्दावर विधायक रहे योगेश वर्मा और उनकी मेयर पत्नी सुनीता वर्मा ने समाजवादी पार्टी ज्वाइन कर ली है। सपा ज्वाइन करने के दो दिन बार योगेश वर्मा अपनी पत्नी के साथ फेसबुक लाइव के माध्यम से अपने समर्थकों से मुखातिब हुए। इस दौरान योगेश वर्मा ने कहा कि बहुजन समाज पार्टी में रहते हुए उनका और उनके समाज के लोगों का काफी अपमान हुआ है। पूर्व विधायक ने कहा कि समाजवादी पार्टी सर्वसमाज के लोगों का सम्मान करती है, इसलिए उन्होंने लोहिया और बाबा साहब की विचाधारा को आगे बढ़ाने के लिए सपा का दामन थामा है।

meerut: पत्नी ने पति को शराब पीने से रोका, तो पति ने कर दिया यह हाल

फेसबुक लाइव के दौरान योगेश वार्मा ने सर्वसमाज के लोगों से उनका साथ देने की भी अपील की। उन्होंने कहा कि सपा मुखिया अखिलेश यादव ने उनको और उनके समाज के लोगों को जो सम्मान दिया है, उसको बदला वह 2022 में उनको उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाकर चुकाएंगे। भारतीय जनता पार्टी की सरकार में उन पर व उनके समाज के लोगों पर जो अत्याचार हुए हैं, उनको वह सपा में रहते हुए न्याय दिलाएंगे। योगेश वर्मा ने यह भी कहा कि भाजपा सरकार में उन पर झूठे मुकदमे लगाए गए और उनको जेल में भी डाला गया, लेकिन उनका मनोबल नहीं टूटा। यहां तक कि भाजपा के लोगों ने उनकी पत्नी मेयर को भगवा पार्टी में शामिल होने की शर्त पर उनके सारे मुकदमे वापस लेने की बात भी कही, लेकिन उन्होंने इससे साफ इनकार कर दिया।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा पर निशाना साधा

सोशल मीडिया के माध्यम से बार कर रहे योगेश वर्मा ने 2007 विधानसभा चुनाव से लेकर समाजवादी पार्टी में शामिल होने तक के सियासी सफर और संघर्ष पर भी बात कही। उन्होंने कहा कि सर्वसमाज के लोग उनको प्यारे हैं, यही वजह है कि अन्य समाज के लोग भी उनका समर्थन करते हैं।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here