MAWANA: नया पेराई सत्र शुरु होने को है, लेकिन मवाना शुगर मिल अभी भी क्षेत्र के किसानों का करोड़ों का पैमेंट दबाए बैठी है। कोरोना काल के चलते किसानों पर पैसे की तंगी है, लेकिन बावजूद इसके न ही सरकार और न ही शुगर मिल किसानों का पैमेंट कराने को तैयार है। जिससे किसानों के सामने रोजी रोटी का संकट खड़ा होता जा रहा है। यह बात पूर्व मंत्री प्रभुदयाल बाल्मीकि ने SDM को ज्ञापन सौंपने के दौरान कही।

Nawazuddin Siddiqui की पत्नी के कोर्ट में बयान दर्ज, कड़ी सुरक्षा में Mumbai से पहुंची Muzaffarnagar

शुक्रवार को पूर्व मंत्री प्रभुदयाल बाल्मिकी दर्जनों समर्थकों के साथ मवाना तहसील पहुंचे। प्रभुदयाल ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश की सरकार पूंजीपतियों की सरकार है। इन्हे किसान व गरीब मजदूर से कोई सरोकार नहीं हैं। प्रदेश में इन दिनों गंडई चर्म पर है। लूट हत्या बाल्तकार इस सरकार में आम बात हो गई है। इसके बाद मंत्री ने समर्थकों के साथ उपजिलाधिकारी को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा। जिसमें मवाना क्षेत्र के किसानों का पूराना गन्ना भुगतान जल्द से जल्द कराने की मांग की गई थी।

Meerut में युवक ने अपने साथियों के साथ की महिला से छेड़छाड़, विरोध करने पर घर के अंदर खींचने का प्रयास

दी चेतावनी

पूर्व मंत्री ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि वह कई बार गन्ना भुगतान के लिए उपजिलाधिकारी को ज्ञापन सौंप चुके हैं, लेकिन इसके बाद भी सरकार के कोई जूं नहीं रेंगती। यदि ज्यादा हिलाहवाली हुई तो वह सैंकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन करेंगे। इसकी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी। ज्ञापने देने के दौरान दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Meerut के अलीपुर गांव में छापा मारने गई बिजली विभाग की टीम पर पथराव, SDO समेत कई कर्मचारी घायल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here