एक और गड़बड़झाला! नगर निगम में बाबू का खेल, फिर जारी किए एक नाम पर दो Certificate

0
97

मेरठ। नगर निगम के प्रमाण पत्रों में जारी धांधली रुकने का नाम नहीं ले रही है। निगम के बाबू और अफसर आंख मूंद कर एक-एक शख्स के कई-कई सर्टिफिकेट जारी कर रहे हैं। नगर निगम से जुड़ा इसी तरह का एक और मामला सामने आया है। मेरठ नगर निगम के जन्म मृत्यू अनुभाग ( Birth death section ) में रिषू जैन नाम के शख्स के दो जन्म प्रमाण पत्र जारी किए गए हैं। यहां चौंकाने वाली बात यह है कि दोनों ही प्रमाण पत्र न केवल अलग-अलग रजिस्ट्रेशन संख्या के आधार पर बनाए गए हैं, बल्कि दोनों की जारी करने की तिथि और उसमें लिखित जन्म तिथि भी अलग-अलग है।

CCSU Meerut: छात्र-छात्राओं को डिजिटल प्लेटफार्म पर मजबूत करने की ​कवायद, कुलपति ने कही बड़ी बात

नियम कायदों से बेपरवाहा बाबू

नगर निगम में यह पहला मामला नहीं है, जब प्रमाण पत्रों में इस तरह की गड़बड़ी का मामला सामने आया हो। इससे पहले अनुज सिंह पुत्र कमल सिंह निवासी जयदेवी नगर के भी दोनों की पंजीकरण संख्या के साथ अलग-अलग जन्म प्रमाण पत्र जारी किए गए थे। आलम यह है कि नियम कायदों से बेपरवाहा बाबू एक दिन में एक ही बच्चे के कई-कई प्रमाण पत्र जारी कर, सिस्टम की खिल्ली के उड़ा रहे हैं। हाल तो यह है कि निगम के आला अधिका​री भी इस तरह के प्रमाण पत्रों पर आंख मूंद कर अपनी स्वीकृति दे रहे हैं, जिससे नगर निगम और उत्तर प्रदेश सरकार ( UP Government ) दोनों की ही छवि धूमिल हो रही है।

West UP में Diwali से पहले बढ़ी ठंड, अब दिन के तापमान में भी आयी गिरावट

अफसरों का नहीं कोई खौफ

आपको बता दें कि नगर​ निगम में सालों से एक ही कुर्सी से चिपके बाबू ​पूरे सिस्टम को अपनी उंगली पर नचा रहे हैं। यही वजह है कि निगम में रह-रह कर इस तरह के मामले सामने आ रहे हैं। हालांकि फिलहाल नगर निगम की कमान एक आईएएस संभाल रहे हैं, बावजूद इसके लापरवाह कर्मचारी न सुधरने को तैयार हैं और न ही उनमें अफसरों का कोई खौफ नजर आ रहा है।

Meerut Division में 10 दिनों में Corona के मिले पांच हजार मरीज, 34 लोगों की मौत, त्योहारों पर खौफनाक स्थिति

इस संबंध में जब नगर स्वास्थ्य अधिकारी गजें​द्र सिंह से बात की गई तो उन्होंने बताया​ कि निजी कारणों की वजह से वह फिलहाल अवकाश पर चल रहे हैं। एक शख्स के कई प्रमाण पत्र बनाया जाना गैर-कानूनी है। इस संदर्भ को उच्च अधिकारियो के संज्ञान में लाया जाएगा।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here