Meerut: CM केजरीवाल ने गणतंत्र दिवस हिंसा के लिए केंद्र को ठहराया जिम्मेदार

0
121

मेरठ| दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के अध्यक्ष अरविंद केजरीवाल ने गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान लाल किले पर हुई हिंसा के लिए केंद्र को दोषी ठहराया है। मेरठ में रविवार को एक ‘किसान महापंचायत’ को संबोधित करते हुए, केजरीवाल ने किसानों को अपना समर्थन दिया और कहा, “लाल किले की हिंसा के पीछे केंद्र है, न कि किसान। उन किसानों को गुमराह किया गया, जो दिल्ली की सड़कों को नहीं जानते थे।”

farmers protest: भरी पंचायत में ABP न्यूज के पत्रकार ने दिया स्तीफा, जाने कौन है क्रांतिकारी पत्रकार

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्हें पता है कि किसानों द्वारा ट्रैक्टर परेड निकालने के दिन क्या हुआ था। “हमारे देश के किसान दुखी हैं। 90 दिनों से अधिक समय हो गया है और वे अपने परिवारों के साथ दिल्ली के पास विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। इन तीन महीनों में 250 से अधिक किसानों की मौत हो गई है, लेकिन केंद्र ने इस बारे में कुछ नहीं किया है।”

आप नेता ने कहा कि प्रदर्शनकारी किसानों को उन अत्याचारों का सामना करना पड़ा, जो ब्रिटिश शासन के दौरान भी नहीं करने पड़े थे।

new delhi: भारत बंद को लेकर अलर्ट, 1500 स्थानों पर धरना देने की प्लानिंग

उन्होंने कहा, “प्रदर्शनकारियों पर झूठे मामले चलाए जा रहे हैं। हमारे किसान कुछ भी हो सकते हैं, लेकिन देशद्रोही नहीं हैं। हालांकि, उन्हें देशद्रोह के आरोप का सामना करना पड़ा है। देश का एक बेटा देश की सीमाओं की रक्षा कर रहा है, दूसरा दिल्ली की सीमा पर है।”

केजरीवाल ने तीन कृषि कानूनों को मौत का वारंट बताया और कहा कि कानून सरकार के पूंजीपति मित्रों को लाभ पहुंचाने के लिए पारित किए गए थे।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here