पीड़िता ने पुलिस अफसरों को सुनाई गैंग रेप की रूह कंपा देने वाली आपबीती, हत्या करना चाहते थे आरोपी

मेरठ में अस्पताल की कर्मचारी को अगवा करके सामूहिक दुष्कर्म के तीन आरोपियों में से दो को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पीड़िता ने पुलिस अफसरों को जब आपबीती सुनाई तो वे भी हैरत में पड़ गए।

0
201

मेरठ। गढ़ रोड के एक अस्पताल (Hospital) से ड्यूटी करके लौट रही महिला को सोमवार की रात अगवा करके सामूहिक दुष्कर्म (Gang Rape) का मामला सामने आने के बाद दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पीड़िता ने पुलिस अफसरों (Police Officers) को आपबीती सुनाई तो वे भी हैरत में पड़ गए। दुष्कर्म के आरोपी महिला की हत्या करना चाहते थे। महिला की गुहार के बाद आरोपी उसे गंभीर अवस्था में सड़क के किनारे फेंककर फरार हो गए थे। बाइक सवार युवक की मदद से पीड़िता गढ़ रोड पर न्यू मैक्स अस्पताल के सामने पहुंची। मेडिकल स्टोर संचालक ने पुलिस और एंबुलेंस को सूचना दी। पुलिस (Meerut Police) ने पीड़िता को मेडिकल कॉलेज (LLRM Medical College Meerut) में भर्ती कराया।

यह भी पढ़ें: Baghpat में उधार के पैसे को लेकर संघर्ष, पथराव के दौरान पुलिसकर्मियों ने भागकर बचाई जान

एसएसपी अजय साहनी ने आरोपियों को पकड़ने के लिए तीन सीओ, एसओ मवाना और मेडिकल को लगाया था। पुलिस ने गढ़ रोड और अन्य स्थानों पर सीसीटीवी फुटेज देखी। उससे सफेद रंग की कार का नंबर ट्रेस किया। यह कार शास्त्रीनगर निवासी वासु की थी। पुलिस वासु तक पहुंची। उसकी कॉल डिटेल के आधार पर मुख्य आरोपी रजत त्यागी को गिरफ्तार किया। इसके बाद एसएसपी ने आरोपियों की शिनाख्त परेड कराई। पीड़िता ने ने दोनों आरोपियों को पहचान लिया।

यह भी पढ़ें: नगर आयुक्त, डिप्टी सीएमओ समेत तीन डॉक्टर कोरोना संक्रमित, 196 नए केसों से आंकड़ा 6500 के पास

इस घटना के बारे में जब ​पीड़िता ने रोते-रोते जब पुलिस अफसरों के सामने आपबीती सुनाई तो वे भी घटना सुनकर हैरान रह गए। महिला के अनुसार अस्पताल से कुछ दूरी पर ही रजत ने सफेद रंग की कार में उसे जबरन बैठा लिया था। उसने मुंह में कपड़ा ठूंस दिया था। जागृति विहार एक्सटेंशन पहुंचने पर उसने दो साथियों को फोन कर बुलाया था। पीड़िता ने बताया कि आरोपियों ने जबरन शराब पिलाने की भी कोशिश की। विरोध करने पर रजत ने कई थप्पड़ मारे। दुष्कर्म के बाद एक आरोपी ने कहा था गला दबाकर हत्या कर दो। यह पुलिस के पास गई तो हम पकड़े जाएंगे। जब आरोपियों ने पीड़िता को फेंका तो उसे काफी देर होश नहीं आया। बाद में बाइक सवार से मदद मांगी। न्यू मैक्स अस्पताल पहुंचते ही महिला की हालत बिगड़ गई। मेडिकल स्टोर संचालक ने पुलिस और एंबुलेंस को सूचना दी।

यह भी पढ़ें: पत्नी ​झगड़ा करके पहुंची मायके और पति को ले गई पुलिस, चोरों ने घर में कर दिए लाखों साफ

इस घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस ने पीड़िता को मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया। एसएसपी, एसपी सिटी, सीओ सिविल लाइन मौके पर पहुंचे। एसपी सिटी ने बताया कि महिला ने अज्ञात में तहरीर दी है। शास्त्रीनगर सेंट्रल मार्केट निवासी वासु ने खुद को एक टीवी चैनल में पत्रकार बताया। उससे आईडी भी बरामद हुई। दिल्ली नंबर की सफेद रंग की कार पर प्रेस और टीवी चैनल के नाम का स्टीकर लगा था। घटना के बाद वासु ने घर पहुंचकर रात में ही कार की धुलाई कर दी।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here