वाहनों पर ​हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट हुई अनिवार्य, इस तरह कर सकते है आवेदन

वाहनों पर हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगवाना अनिवार्य कर दिया गया है। एक अप्रैल 2019 से पहले के वाहनों के लिए एचएसआरपी लगवानी जरूरी होगी। वरना आरटीओ कार्यालय में उस वाहन संबंधी सभी कार्य लंबित हो जाएंगे। आरटीओ में वाहन स्वामियों को आवेदन करने का तरीका बताया जा रहा है।

0
209

मेरठ। एक अप्रैल 2019 से पहले खरीदे गए वाहनों में हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट (HSRP) लगाना अनिवार्य कर दिया गया है। अगर वाहन पर ये नंबर प्लेट (Vehicle Number Plate) नहीं है तो वाहनों की फिटनेस (Fitness), नाम परिवर्तन (Change Name), परमिट (Permit) समेत वे तमाम काम रुक जाएंगे, जो वाहन और उसके स्वामी को मुश्किल में डाल सकते हैं।। संभागीय परिवहन विभाग (RTO) ने नई व्यवस्था (HSRP New System) लागू की है। इसके लिए वाहन स्वामी आनलाइन आवेदन (Online Apply) कर सकते हैं। इसके लिए उन्हें आरटीओ जाने की जरूरत नहीं है। आवेदन करते ही नई नंबर प्लेट (HSRP Number Plate) तैयार हो जाएगी। परिवहन निगम से संबद्ध एजेंसी एचएसआरपी तैयार कर रही है।

एचएसआरपी के आवेदन को लेकर वाहन मालिक जानकारी हासिल करने के लिए संभागीय परिवहन विभाग कार्यालय पहुंच रहे हैं। कार्यालय में उन्हें बताया जा रहा है कि एजेंसी वाहनों पर नंबर प्लेट लगाएगी। एजेंसी संचालकों का कहना है कि आनलाइन आवेदन करने पर ही नंबर प्लेट लगाई जाएगी। सरकार ने नंबर प्लेट बनाने का न्यूनतम शुल्क 354 रुपये निर्धारित किया है। बड़े वाहनों की नंबर प्लेट के लिए अलग कीमत रखी गई है।

एचएसआरपी के लिए आनलाइन आवेदन के लिए बुक माई एचएसआरपी डाट कॉम पर क्लिक करना होगा। फिर प्राइवेट व निजी वाहन का चयन करना होगा। वाहन संख्या, चेसिस संख्या, आरसी नंबर समेत सभी जानकारी भरनी होंगी। किस डीलर से नंबर प्लेट लगाना चाहते है, इसका चयन करना होगा। इसके बाद आनलाइन शुल्क जमा करना होगा। शुल्क जमा होते ही हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगवाने के लिए संबद्ध एजेंसी पर किस दिन जाना है, इसकी तारीख मिल जाएगी। निर्धारित दिन में एजेंसी पर जाकर नंबर प्लेट लगवानी होगी। नंबर प्लेट लगते ही परिवहन विभाग का सिस्टम अपडेट हो जाएगा। आनलाइन आरसी देखने पर नए नंबर प्लेट लगाने की जानकारी मिलेगी। आरटीओ डा. विजय कुमार के मुताबिक पुराने वाहनों में हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगाने का नियम सोमवार से लागू हो गया है। आनलाइन आवेदन करने पर एजेंसी संचालक द्वारा नंबर प्लेट लगाई जाएगी।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here