Meerut Division में 10 दिनों में Corona के मिले पांच हजार मरीज, 34 लोगों की मौत, त्योहारों पर खौफनाक स्थिति

मेरठ मंडल में कोरोना की स्थिति बेहद खराब है। नवंबर माह के शुरुआती दस दिनों में पांच हजार संक्रमित मरीज मिले तो 34 लोगों की मौत हो गई है। त्योहारों पर बाजारों में भीड़भाड़ बढ़ने से ये स्थिति और भयावह हो सकती है।

0
98

मेरठ। मेरठ मंडल ​(Meerut Division) में कोरोना (Corona) का खतरा किस कदर बढ़ रहा है, उसका अनुमान लगाने के लिए नवंबर महीने में दस दिनों के भीतर पांच हजार के करीब मरीज मिले हैं। साथ ही दस दिनों में 34 लोगों की मौत (Corona Deaths) हो चुकी है। 31 अक्टूबर तक मेरठ मंडल में 58,908 कोरोना मरीज मिले थे और 604 लोगों की मौत हो गई थी तो दस नवंबर तक यह आंकड़ा 63,765 मरीजों तक बढ़ गया और 638 मरीजों की मृत्य हो गई। यानि पांच हजार संक्रमित मरीज (Corona Infected) बढ़ने के साथ-साथ पिछले दस दिनों में 34 लोगों की मौत हो चुकी है। दिवाली (Diwali) और अन्य त्योहारों (Festivals) के बाद भी कोरोना का संक्रमण बढ़ने का खतरा है। स्वास्थ्य विभाग (Health Department) त्योहारों के बाद घर-घर जाकर कोरोना की जांच कराने की तैयारी कर रहा है।

नवंबर माह के शुरुआती 10 दिनों में मेरठ मंडल में पांच हजार के करीब नए कोरोना संक्रमित मरीज मिल चुके हैं। वहीं दस दिनों में 34 लोगों की मौत हो चुकी है। मेरठ मंडल कमिश्नर अनीता सी मेश्राम ने अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं। त्योहारी सीजन में लोग घरों से बाहर निकल रहे हैं। कोरोना प्रोटोकॉल की लापरवाही भी हो रही है। इसके अलावा शासन भी अंदेशा जता चुका है नवंबर-दिसंबर में फिर से कोरोना की बड़ी लहर आ सकती है। ऐसे में कोरोना संक्रमण के मद्देनजर फिर से अभियान चलाया जाएगा।

यह भी पढ़ें: दीपावली से पहले पटाखों का जखीरा पकड़ा, पुलिस ने अभियान में इतने लाख का माल बरामद

स्वास्थ्य विभाग का मानना है कि अगर त्योहारी सीजन में संक्रमण फैला तो उसका असर जांच करने पर ही पता चल पाएगा। जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ प्रशांत कुमार ने बताया कि त्योहारों के बाद अभियान चलाकर ऐसे लोगों की सूची बनाई जाएगी, जिन्हें पिछले कई दिन से सूखी खांसी, बुखार और सांस लेने में दिक्कत है। उनकी जांच कराई जाएगी। रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उनका इलाज शुरू किया जाएगा। दस नवंबर तक मेरठ जनपद में 14,136 मरीज व 322 की मोत, गाजियाबाद में 20,033 मरीज व ​85 मौत, गौतमबुद्ध नगर में 19,614 मरीज व 71 मौत, बुलंदशहर में 4,806 मरीज व 77 मौत, हापुड़ में 3,519 मरीज व ​59 मौत और बागपत में 1657 मरीज व ​24 मरीजों की अब तक मौत हो चुकी है।

यह भी पढ़ें: त्योहारों पर बाजारों में भीड़ बढ़ने से Corona के नए केस मिले 168, Meerut में आंकड़ा 14 हजार के पार

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here