Meerut: अपनी समस्याओं को लेकर किसानों ने भरी हुंकार, कलेक्ट्रेट में अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे

सोमवार से भारतीय किसान यूनियन के नेतृत्व में किसानों ने अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया है। प्रदेशभर के किसान आंदोलनरत हैं और अपने-अपने जिला मुख्यालय पर धरना दे रहे हैं। किसानों को कहना है कि जब तक उनकी मांग पूरी नहीं की जाती तब तक वे धरने से नहीं उठेंगे।

0
175

मेरठ। अपनी समस्याओं को लेकर सोमवार से प्रदेशभर के किसान (UP Farmers) ​भारतीय किसान यूनियन (BKU) के आह्वान पर अपने-अपने जिला मुख्यालय (Jila Mukhyalaya) पर धरने पर बैठ गए हैं। ​इनका कहना है कि ​जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं होंगी, तब तक उनका धरना (Dharna) जारी रहेगा। मेरठ (Meerut District) में जिलाध्यक्ष मनोज त्यागी ईकडी के नेतृत्व में किसान कलक्ट्रेट पहुंचे और परिसर में धरने पर बैठ गए। अनिश्चितकालीन धरने के दौरान विश्राम के लिए दरी आदि की व्यवस्था भी किसानों ने की है।

यह भी पढ़ें: Bulandshahr सदर सीट पर उपचुनाव के लिए रवाना हुई पोलिंग पार्टियां, 579 मतदान केंद्रों पर होगी वोटिंग

किसानों के बकाया गन्ना मूल्य भुगतान, धान खरीद की समस्या, बिजली संबंधी शिकायतें व गन्ना मूल्य वृद्धि की मांग को लेकर संगठन पूरे प्रदेश में जिला मुख्यालयों पर धरना प्रदर्शन किया जा रहा है। इसके लिए भाकियू के सभी पदाधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वे ट्रैक्टर-ट्रॉली में गन्ने की पत्ती, पराली डालकर रात्रि विश्राम की तैयारी से पहुंचे। ट्रैक्टर-ट्रॉली में रात्रि विश्राम के लिए बिस्तर, खाने का राशन आदि सामान भी साथ लाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: Meerut: पिन पाइंट शूटिंग रेंज में हुई प्रतियोगिता में आकांशा खारी बनी ‘चैंपियंस आफ चैंपियन’

जिला प्रेस प्रवक्ता बबलू जटौली ने बताया कि मेरठ में जिलाध्यक्ष मनोज त्यागी ईकडी के नेतृत्व में रणनीति तैयार की गई है। धरने में संयोजक गजेंद्र सिंह, जिलाध्यक्ष मनोज त्यागी, रविंद्र दौरालिया, राजकुमार करनावल, सत्यवीर जंगेठी, हरेंद्र सिंह, सुरेंद्र सिंह, प्रमोद त्यागी व बबलू जटौली आदि मौजूद रहे। धरने पर बैठे भाकियू के पदाधिकारियों के बीच सिटी मजिस्ट्रेट सत्येन्द्र कुमार सिंह पहुंचे। उन्होंने किसानों से उनकी मांग के बारे में पूछा। भाकियू वालों ने बताया कि वह ज्ञापन नहीं सौंपेंगे। उनका धरना अनिश्चितकालीन चलता रहेगा।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here