मेरठ। दुबई (Dubai) में चल रहे आईपीएल मैचों (IPL Mathes) को लेकर मेरठ (Meerut) में आनलाइन बड़ा सट्टा (Online Satta) खेला जा रहा है। इसकी सूचनाएं पुलिस (Meerut Police) को लगातार मिल रही हैं। टीपी नगर पुलिस (TP Nagar Police) ने सट्टा का कारोबार (Satta Karobar) करने वाले चार लोगों को गिरफ्तार किया है। इसमें बुकी और ट्रांसपोर्टर भी शामिल हैं। पुलिस का दावा है कि मेरठ में चल रहे सट्टे में कई बड़े लोग भी शामिल हैं। पुलिस इन पर नजर रखे हुए है। जल्दी ही कुछ नाम सामने आ सकते हैं। टीपी नगर ने जिन चार लोगों को गिरफ्तार किया है, उनके पास से सात मोबाइल फोन, 68 हजार रुपये नकद और रजिस्टर मिला है। आईपीएल मैचों में करोड़ों रुपये का सट्टा (Satta For Corores) खेला जा रहा है।

शुक्रवार की देर रात सर्विलांस और टीपीनगर पुलिस ने शिमला ट्रांसपोर्ट कंपनी से चार लोगों को गिरफ्तार किया। शहर के कई नामचीन लोग इस काम से जुड़े हैं। मुख्य आरोपी ही रोजाना करीब दस लाख रुपये का सट्टा लगवा रहा था। हर दो-तीन दिन बाद ठिकाना बदल देते थे। गिरफ्तार अभियुक्तों में धर्मेंद्र अरोड़ा निवासी कालिंदी कुंज गुप्ता कालोनी ट्रांसपोर्ट नगर, मोहित अरोड़ा निवासी रघुकुल विहार, नईम अहमद निवासी रशीद नगर लिसाड़ी गेट, रवि गुलाटी निवासी न्यू देवपुरी शामिल हैं। मुख्य बुकी धर्मेंद्र अरोड़ा है। उसने दिल्ली में आईपीएल की बुकिंग करने वाले चोपड़ा नाम के बड़े बुकी से तीन हजार रुपये में लाइन खरीदी है।

इसके बाद अपने साथ अन्य लोगों को जोड़कर उनके मोबाइल में आनलाइन गेम खेलने का साफ्टवेयर इंस्टाल कर दिया है। इसको आइडी कहा जाता है। 50 हजार से लेकर एक लाख रुपये या इससे ज्यादा की भी आईडी उनके मोबाइल में साफ्टवेयर इंस्टाल करके उपलब्ध करा दी जाती है। उस आइडी पर मैच में होने वाली प्रत्येक गतिविधि मसलन हर फेंकी जाने वाली गेंद और हर बनने वाले रन के हिसाब से लाभ-हानि का आकलन किया जाता है। शहर में कई जगहों पर सट्टे का कारोबार चल रहा है। पुलिस की जानकारी में भी कुछ नए नाम आए हैं। एसपी सिटी डा. एएन सिंह का कहना है कि टीपी नगर में सट्टा खेले जाने की जानकारी मिल रही थी, इसके बाद यहां छापा मारा गया है। सट्टा नेटवर्क के अन्य कई लोगों के नाम सामने आ रहे हैं, जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here