CCSU Meerut: कोरोना का असर कालेजों में एडमिशन के रजिस्ट्रेशनों पर, अब इस तारीख तक कर सकते हैं आवेदन ​

कोरोना संक्रमण​ का असर चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय मेरठ के कालेजों में प्रवेश प्रक्रिया पर पड़ रहा है। इसलिए रजिस्ट्रेशन बहुत कम हुए हैं। पहले 15 सितंबर तारीख निर्धारित की गई थी, अब एक सप्ताह और बढ़ाया गया है।

0
117

मेरठ। कोरोना वायरस ने हर दिशा में अपना असर दिखाया है। यही वजह है कि अनलॉक हो जाने के बाद लोगों में कोरोना को लेकर खौफ है। चाहे बच्चे ​हों या बड़े। कोरोना का असर चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय मेरठ से संबद्ध कालेजों में प्रवेश को लेकर देखा जा रहा है। विश्वविद्यालय ने नए सत्र में यूजी और पीजी प्रथम वर्ष में प्रवेश के लिए 15 सितंबर तक रजिस्ट्रेशन की ​तारीख निर्धारित की थी, लेकिन रजिस्ट्रेशन में छात्र-छात्राओं की अनुपस्थिति साबित करती है कि मेरठ और सहारनपुर मंडल के नौ जिलों में कोरोना कितना असरकारी बन रहा है। छात्र-छात्रओं के कम रजिस्ट्रेशन होने के कारण विश्वविद्यालय प्रशासन ने रजिस्ट्रेशन की आखिरी तारीख 21 सितंबर कर दी है। अब 21 सितंबर तक छात्र विश्वविद्यालय की एडमिशन की आफिशियल साइट पर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।

यह भी पढ़ें: बेटी ने आगे पढ़ने की जिद की तो पिता ने उस पर लगा दिए गंभीर आरोप…दे दी जान

विश्वविद्यालय प्रशासन का कहना है कि छात्र 21 सितंबर तक https://admission.ccsuweb.in/ पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। इसके 72 घंटे बाद पहली मेरिट जारी करने की तैयारी है। अभी तक एक लाख 22 हजार 189 छात्र-छात्राओं ने रजिस्ट्रेशन और फीस जमा कराई है। बीए के लिए एक लाख 55 हजार 804, बीकॉम के लिए 46 हजार 862, बीएससी के लिए 46 हजार 182 और बीएससी एजी के लिए 12 हजार 598 रजिस्ट्रेशन हैं। विश्वविद्यालय प्रशासन का कहना है कि 15 अक्टूबर से क्लासें शुरू कर दी जाएंगी। विश्वविद्यालय की ओर से कहा गया है कि 21 सितंबर तक ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन नहीं कराने पर उन्हें शुरुआती प्रक्रिया में कोई मौका नहीं मिलेगा। यदि कालेजों में रिक्त सीटें बचती हैं तो छूटे छात्र-छात्राओं को प्रवेश के लिए रजिस्ट्रेशन के एक मौका ​और दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: BJP MLA ने थानाध्यक्ष की कुर्सी पर बैठकर लिखवाया मुकदमा, मच गया हड़कंप

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here