मेरठ। कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के कारण करीब सात महीने बाद चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय कैंपस और कालेजों (CCSU Meerut Campus And Colleges) में फिर से पढ़ाई शुरू होने जा रही है। ​फिलहाल अभी पीएचडी (PHD) और प्रयोगशाला के कार्यों (Practical Works) के लिए ही छात्रों को कक्षा में आने की ​अनुमति है। अब विश्वविद्यालय प्रशासन (University Administration) अन्य कक्षाओं को भी शुरू करने की कवायद कर रहा है। यूजीसी (UGC) ने दो नवंबर से पढ़ाई शरू करने के लिए कहा गया है, हालांकि इस संबंध में विश्वविद्यालय को लिखित में कोई निर्देश नहीं पहुंचा है, इसके बावजूद दो नवंबर से कालेजों में पढ़ाई शुरू करने की तैयारी शुरू कर दी गई।

यह भी पढ़ें: नाग-नागिन को इस हालत में देखा तो दहशत में किसान की हार्टअटैक से मौत, मची अफरातफरी

चौधरी चरण सिंह ​विश्वविद्यालय कैंपस और कालेजों के बंद होने से आनलाइन कक्षाएं चलाई जा रही है। जिसे अब आफलाइन भी कक्षाएं चलाने की तैयारी की जा रही है। सीसीएसयू में प्री-पीएचडी कोर्स वर्क और एमएससी की कक्षाएं आनलाइन चल रहीं हैं। कुछ कालेजों में भी स्नातक दूसरे और तीसरे साल के छात्रों की आनलाइन कक्षाएं चल रहीं हैं।

यह भी पढ़ें: छोटे को पैसे ​देने से गुस्साए बड़े बेटे ने पिता की पिटाई के बाद गला दबाकर की हत्या

स्नातक प्रथम वर्ष में अभी प्रवेश की प्रक्रिया चल रही है। अगर विवि और कालेज खुलते हैं तो स्नातक और परास्नातक प्रथम वर्ष की कक्षाएं छोड़कर शेष कक्षाओं के छात्रों को बुलाया जा सकता है। चौ. चरण सिंह विवि की प्रतिकुलपति प्रो. वाई विमला का कहना है कि स्नातक के पाठ्यक्रम के लिए भी बहुत से ई कंटेंट तैयार कराए गए हैं। छात्र आनलाइन और आफलाइन दोनों तरीके से पढ़ सकेंगे। यूजीसी और शासन के जो निर्देश होंगे, उसके अनुसार तैयारी की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here