मेरठ। इसे कोरोना (Corona) का असर कहें या ​फिर ग्रेजुएशन (UG) या पोस्ट ग्रेजुएशन (PG) में पढ़ाई करने से मन हटना, प्रवेश के लिए कालेजों की सभी सीटों पर आनलाइन रजिस्ट्रेशन (Online Registration) पूरा नहीं हो सका है। चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय मेरठ (CCSU Meerut) से संबद्ध मेरठ (Meerut) और सहारनपुर ​(Saharanpur) मंडल के नौ जनपदों के कालेजों (Colleges) में करीब दो लाख सीटों पर एक लाख 60 हजार रजिस्ट्रेशन ही हुए, इनमें से भी एक लाख 46 हजार ने पंजीकरण शुल्क (Registration Fees) जमा कराया है। इनमें भी एक लाख 30 हजार रजिसट्रेशन तो यूजी में प्रवेश के लिए रजिस्ट्रेशन हुए हैं। शैक्षिक सत्र 2020-21 में स्नातक कक्षा में प्रवेश के लिए अब पांच अक्टूबर को पहली मेरिट (First Merit List) जारी की जाएगी। प्रवेश में स्थिति देखने के बाद ही दूसरी मेरिट लिस्ट (Second Merit List) जारी की जाएगी।

यह भी पढ़ें: हाथरस की बेटी पर अभिनेत्री कंंगना रनौत ने कहा- दुष्कर्मियों को सबके सामने मार दो गोली

चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय मेरठ और संबद्ध कालेजों में कालेज और विवि में संचालित परास्नातक, बीएससी नर्सिंग, एलएलबी तीन वर्षीय, सर्टिफिकेट कोर्स, डिप्लोमा कोर्स में प्रवेश के लिए पंजीकरण अभी खुले रहेंगे। इसमें अंतिम तिथि अभी तय नहीं की गई है। यूजी और पीजी कक्षाओं में आनलाइन रजिस्ट्रेशन की ये स्थिति तब है जब तीन बार रजिस्ट्रेशन की तिथि बढ़ाई गई। कोरोना संक्रमण में विश्वविद्यालय की मुख्य परीक्षाएं अब जाकर हुई है तो रजिस्ट्रेशन करवाने पर भी इसका साफतौर पर असर देखा जा सकता है। विश्वविद्यालय से जुड़े कालेजों में अभी भी करीब 60 हजार सीटें खाली हैं। यूजी कक्षाओं में प्रवेश के लिए 14 जून से ऑनलाइन पंजीकरण शुरू हुआ था। 30 सितंबर तक स्नातक और परास्नातक में कुल एक लाख 60 हजार अभ्यर्थियों के आवेदन हुए हैं। इसमें एक लाख 46 हजार ने पंजीकरण शुल्क भी जमा करा दिया है। स्नातक प्रथम वर्ष में एक लाख 30 हजार अभ्यर्थियों के आवेदन हुए हैं। विवि की ओर से पहली मेरिट पांच अक्टूबर को जारी होगी। प्रवेश की स्थिति देखने के बाद दूसरी मेरिट जारी की जाएगी।

यह भी पढ़ें: Baghpat में खेल के विवाद में पहलवान की हत्या, साथी गंभीर घायल, हमलावर अभी भी फरार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here