Meerut में भाजपाइयों ने पुलिस अफसर पर लगाया ​अभद्रता का आरोप, सांसद तक पहुंची शिकायत

भाजपा नेता समय-समय पर पुलि​स​कर्मियों पर अभद्रता के आरोप लगाते आए हैं। अब पुलिस अफसर आरोप लगाया गया है। एसपी देहात अविनाश पांडेय का कहना है कि ये आरोप बेबुनियाद है। उन्होंने हस्तिनापुर मामले में निष्पक्ष जांच के लिए सीओ को लिखा है।

0
215

मेरठ। हस्तिनापुर के ​दहेज हत्या के मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर भाजपाई एसपी देहात से मिले। आरोप है कि इस दौरान उन्होंने भाजपाइयों से अभद्रता की। इसको लेकर उनकी नोकझोंक भी हो गई। भाजपाइयों ने इसकी शिकायत सांसद और महानगर अध्यक्ष से की है, जबकि एसपी देहात अविनाश पांडेय का कहना है कि उन्होंने कोई अभद्रता नहीं की और निष्पक्ष के लिए सीओ को पत्र लिखा है।

यह भी पढ़ें: Meerut में खतरनाक स्तर पर पहुंचा Corona मरीजों का आंकड़ा, 423 नए Positive

नौचंदी थाना क्षेत्र के लाल सिंह नगर निवासी रणवीर सिंह ने नौ फरवरी 2020 को बेटी काजल की शादी हस्तिनापुर निवासी लोकेश से की थी। आरोप है कि दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर 28 अगस्त को विवाहिता को गोली मार दी थी। गंभीर हालत में उसे मेरठ के नर्सिंग होम में भर्ती कराया था, जहां 24 सितंबर को उसकी मौत हो गई थी। पुलिस ने पति को गिरफ्तार कर लिया था। अन्य आरोपी फरार चल रहे हैं। मंगलवार को ओबीसी मोर्चा के महानगर अध्यक्ष संजीव प्रधान, फूलबाग के मंडल अध्यक्ष नरेंद्र गुप्ता और विवाहिता के परिजन एसएसपी से मिलने गए थे, लेकिन वह नहीं थे।

यह भी पढ़ें: दुष्कर्म पीड़िता का मेडिकल नहीं कराने पर अड़ा दरोगा, जानिए क्या है पूरा मामला

इस पर उन्होंने एसपी देहात अविनाश पांडेय से मुलाकात कर फरार आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की। आरोप है कि इस दौरान एसपी देहात ने उनके साथ अभद्रता की। इसकी शिकायत उन्होंने सांसद राजेंद्र अग्रवाल, महानगर अध्यक्ष से की है। एसपी देहात का कहना है कि आरोप निराधार हैं। उन्होंने मामले की निष्पक्ष जांच के लिए सीओ को पत्र लिखा है।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here