Weather Update: Diwali से पहले West UP में बढ़ गई ठंड, रखें अपने स्वास्थ्य का ख्याल

वेस्ट यूपी के मेरठ समेत जनपदों में सुबह और शाम की ठंड शुरू हो गई है। नवंबर की शुरुआत में इसका असर ज्यादा देखा जा रहा है। चिकित्सकों ने लोगों से ठंड से बचाव की सलाह दी है।

0
182

मेरठ। दीवाली (Diwali) से ठीक पहले मौसम में ठंडक (Cold) बढ़ गई है। सुबह और शाम (Morning-Evening) की ठंड इस महीने की शुरुआत में ही ज्यादा देखी जा रही है। बुधवार को भी सुबह की शुरुआत तेज ठंड के साथ हुई। दिन में धूप निकलने से गर्मी बढ़ी। कुछ स्‍थानों पर कोहरा (Fog) भी देखा गया। दिन में धूप में तीखापन जारी है। मौसम के उलटफेर के कारण बीमार पड़ रहे हैं। चिकित्सकों (Doctors) के अनुसार एक दिन में तापमान में 15 से 16 डिग्री का अंतर स्वास्थ्य (Health) पर प्रतिकूल प्रभाव डाल रहा है।

अक्टूबर के आंकड़े बताते हैं कि दिन में सूरज के इतने तल्ख तेवर तो पिछले एक दशक में नहीं रहे। वहीं सर्दी ने भी पूरा जोर लगाया है। न्यूनतम तापमान 13 डिग्री तक पहुंच गया जो आठ सालों में न्यूनतम है। औसत न्यूनतम तापमान भी काफी कम रहा जो वर्ष 2012 के बाद सबसे कम है। अक्टूबर 2012 में बारिश भी देखने को मिली थी जबकि 2020 अक्टूबर में बारिश का आंकड़ा शून्य रहा है। मौसम कितना गर्म रहा है इसका अंदाजा अधिकतम तापमान से लगाया जाता है। वहीं ठंड का आकलन न्यूनतम तापमान से होता है। इस बार अक्टूबर में दोनों अपने अपने शिखर पर रहे हैं। अक्टूबर में केवल 12 दिन ऐसे रहे हैं जबकि अधिकतम तापमान 35 से कम रहा है। जबकि अक्टूबर में सामान्य रूप से अधिकतम तापमान 32 और 33 डिग्री के आसपास रहा है। एक भी दिन तापमान 30 से कम नहीं रहा। जबकि अगर वर्ष 2019 को लें तो चार दिन तापमान 30 से कम आंका गया था।

वहीं सुबह और शाम होते ही तापमान में तेजी से गिरावट होते हुए देखी जा रही है। देर शाम तो बिना जैकेट या स्वेटर के निकलना कंपकंपी का अहसास देता रहा। अक्टूबर का औसत न्यूनतम तापमान डिग्री 17.4 रहा है। एक नवंबर को अधिकतम तापमान 29.4 डिग्री दर्ज किया गया है। सरदार वल्लभ भाई पटेल कृषि विश्वविद्यालय के मौसम केंद्र के प्रभारी डा. यूपी शाही ने बताया कि आने वाले दिनों में दिन और रात के तापमान में गिरावट होगी।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here