Lucknow: पटरी पर आएगी जिंदगी,अनलॉक होगा उत्तर प्रदेश, हटेंगी कुछ पाबंदियां

कंटेनमेंट जोन में पाबंदियां पहले की तरह ही रहेंगी, कुछ शर्तों के साथ व्यापारियों को राहत देने की तैयारी, साप्ताहिक लॅाकडाउन व रात्रि कर्फ्यू में भी कोई बदलाव नहीं

0
115

Lucknow। covid-19 के कम होते केसों को देखते हुए योगी सरकार ने 1 जून से कोरोना कर्फ्यू में आंशिक तौर पर ढील देने पर सहमति बना ली है। कम संक्रमण वाले जिलों में सुबह सात बजे से रात आठ बजे तक पाबंदी हटाई जाएगी। रात आठ बजे से सुबह सात बजे तक और साप्ताहिक कर्फ्यू जारी रखा जाएगा। इसके अलावा अधिक एक्टिव केस वाले जिलों में फिलहाल राहत देने का कोई विचार नहीं है। पांच से छह जिलों में सरकारी व निजी कार्यालयों में 33 फीसदी उपस्थिति की अनिवार्यता रखी जाएगी। शासन स्तर से इस संबंध में रविवार को विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किया जा सकता है। इसके बाद अधिकारिक तौर पर आदेश को पूरे प्रदेश के जिलाधिकारियों को भेजा जाएगा।

Coronavirus: सपा सांसद आजम खान की हालत नाजुक, ऑक्सीजन सपोर्ट पर

व्यापारियों को राहत

टीम-9 की बैठक में निर्णय लिया गया कि एक जून से उद्योग, दुकान और बाजारों को राहत दी जाएगी। बैठक में चर्चा के दौरान वरिष्ठ अधिकारियों को अनलॉक की पूरी रूपरेखा तैयार करने को कहा गया है। प्राथमिकता के आधार पर छूट देते हुए इसका दायरा धीरे-धीरे बढ़ाया जाएगा। प्रदेश में कोरोना का प्रभाव तेजी से कम होने लगा है। रिकवरी रेट भी 97 प्रतिशत तक पहुंचने के बाद सरकार जनता को राहत देने के मूड में है।
अलीगढ़ में जहरीली शराब पीने से अब तक 22 की मौत, कई अधिकारी निलंबित

रेस्टोरेंट खोले जाएंगे

राज्य सरकार का मानना है कि अचानक ही सब अनलॉक करना ठीक नहीं होगा। कोरोना के दूसरी लहर के साथ black gangus को लेकर सतर्कता जरूरी है। इससे अलग-अलग फेज में गतिविधियों में छूट दी जाएगी। सरकार का मानना है कि कोरोना कफ्र्यू के कारण ही प्रदेश में संक्रमण को काफी हद तक नियंत्रित किया गया है। सरकार कपड़े की दुकान, वैवाहिक वस्तुओं की दुकान, निर्माण से जुड़ी सामग्री की दुकान, 50 प्रतिशत कर्मी क्षमता के साथ बड़ी दुकान या रेस्टोरेंट खोलने की अनुमति दे सकती है।

इन पर पाबंदी बरकरार

कंटेनमेट जोन की सभी दुकान, शॉपिंग मॉल, फिल्म थिएटर, सैलून व सभी प्रकार के सामाजिक, धार्मिक व राजनीतिक कार्यक्रम पर अभी रोक रहेगी। गाइडलाइन का उलंघन करने पर पुलिस पहले जैसी ही सख्ती से कार्रवाई करेगी।
कोरोना से अनाथ बच्चों को यूपी में मिला ‘मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना’ का संबल

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here