UP में अगर लेना चाहते हैं पर्सनल बार लाइसेंस, तो पूरी करनी होंगी ये शर्तें

गेस्ट हाउस या फार्म हाउस के लिए नहीं मिलेगा बार लाइसेंस

0
139

lucknow: अगर आप बार लाइसेंस लेना चाहते हैं तो ये खबर आपके लिए हैं। जी हां अपर मुख्य सचिव, आबकारी विभाग, संजय आर भूसरेड्डी ने बताया कि लोगों को शराब की खरीद, परिवहन और निजी कब्जे में रखने के लिए लाइसेंस 12 हजार रुपए वार्षिक फीस के देने होंगे. इसका प्रतिभूति 51 हजार रुपए निर्धारित है।

owner killing: प्रेमी की हत्या कर शव बोरे में भरकर तालाब में फेंका, प्रेमिका से मिलने पहुंचा था उसके घर

यूपी में जहरीली शराब से मौत के बाद हड़कंप मचा हुआ है। आबकारी विभाग (Exicse Department) ने शराब बिक्री को लेकर सख्त निर्देश जारी किए हैं।  निर्देशों में साफ कर दिया गया है कि तय सीमा से अधिक शराब बिक्री करने या स्टॉक रखने पर कार्रवाई की जाएगी।  यही नहीं तय सीमा से अधिक शराब मिलने पर FIR भी दर्ज कराई जाएगी। बता दें शराब की फुटकर बिक्री की सीमा में पहले ही कमी की जा चुकी है। फुटकर बिक्री सीमा निर्धारित कर बीते 5 मार्च को अधिसूचना जारी हो चुकी है।

Blast: महानगर स्थित रिहायसी इलाके में धमाका, मालिक के चिथडे उड़े

ये हैं मुख्य शर्तें

इसके अलावा सख्त निर्देश हैं कि 21 वर्ष से कम व्यक्ति शराब नहीं बेचे। यही नहीं पर्सनल बार लाइसेंस को लेकर भी नियम सख्त हैं। अब सिर्फ आयकर दाताओं को ही पर्सनल बार लाइसेंस मिलेगा। पर्सनल बार लाइसेंस के लिए 5 वर्ष के आयकर रिटर्न की प्रति देनी होगी।  यही नहीं सिर्फ मूल निवास के लिए ही पर्सनल बार लाइसेंस मिलेगा। किसी भी गेस्ट हाउस या फॉर्म हाउस के लिए पर्सनल बार लाइसेंस नहीं मिलेगा।
owner killing: प्रेमी की हत्या कर शव बोरे में भरकर तालाब में फेंका, प्रेमिका से मिलने पहुंचा था उसके घर

प्रदेश के अपर मुख्य सचिव, आबकारी विभाग संजय आर भूसरेड़्डी ने बताया कि अब कोई व्यक्ति एक समय में देशी मदिरा 200 एमएल की 5 बोतलें और देशी मदिरा (मसाला) की 200 एमएल वाली 5 बोतलें या विदेशी शराब 1.5 लीटर, विदेशी शराब (आयातित) 1.5 लीटर, भारी में भरी वाइन 2 लीटर और आयातित वाइन 2 लीटर, भारत में भरी बियर 6 लीटर, आयातित बियर 6 लीटर, इसी तरह अन्य प्रकर की भारतीय व आयातित शराब की 1.5 लीटर, एलएबी 6 लीटर से अधिक अपने पास नहीं रख सकेगा। इसका उल्लंघन करने पर तीन साल तक की सजा और 10 गुने तक पेनाल्टी या 2000 रुपए जो अधिक हो के अर्थदंड लगाया जाएगा। इसके अलावा ipc की धाराओं में भी कार्रवाई की जाएगी।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here