Independence Day: लाल किले से बोले PM- LoC से LAC तक आंख उठाने वाले को सेना ने दिया जवाब

PM ने कहा कि पड़ोसी वो ही नहीं जिससे सीमाएं मिलती हैं, बल्कि वो भी जिससे हमारे दिल मिलते हैं

0
458

नई दिल्ली। 74वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले से झंडा फहराने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को संबोधित किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस दौरान कहा कि देश की सेना ने एलओसी से लेकर एलएसी तक देश की संप्रभुता पर आंख उठाने वाले को उसकी ही भाषा में जवाब दिया है। प्रधानमंत्री ने कहा ​कि भारत की संप्रभुता का सम्मान सर्वोपरी है। उन्होंने कहा कि भारती वीर जवान क्या कर सकते हैं और देश क्या कर सकता है। लद्दाख में दुनिया ने इसका उदाहरण देखा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारा पड़ोसी वो ही नहीं जिससे हमारी सीमाएं मिलती हैं, बल्कि वो भी जिससे हमारे दिल मिलते हैं। उन्होंने कहा कि हम अपने पड़ोसियों के साथ सुरक्षा, विकास और विश्वास की साझेदारी के साथ जोड़ रहे हैं।

 Independence Day: 74वें स्वतंत्रता दिवस पर PM Modi बोले- अगले साल मनाएंगे महापर्व

सावधान monday से मेरठ में लागू हो जाएगा New motor vehicle act 2020, 30 गुणा ज्यादा तक है जुर्माने का प्रावधान

देश की संप्रभुता की रक्षा के लिए पूरा देश एक जोश से भरा 

प्रधानमंत्री ने कहा कि’देश की संप्रभुता की रक्षा के लिए पूरा देश एक जोश से भरा है, संकल्प से प्रेरित है और सामर्थ्य पर अटूट श्रद्धा के साथ आगे बढ़ रहा है। इस संकल्प के लिए हमारे वीर जवान क्या कर सकते हैं, देश क्या कर सकता है, ये लद्दाख में दुनिया ने देखा है भारत के जितने प्रयास शांति और सौहार्द के लिए हैं, उतनी ही प्रतिबद्धता अपनी सुरक्षा के लिए, अपनी सेना को मजबूत करने की है। भारत अब रक्षा उत्पादन में आत्मनिर्भरता के लिए भी पूरी क्षमता से जुट गया है।]

अब मेरठ में खोल सकेंगें होटल, resturent DM ने दी अनुमति, सिनेमा हॅाल के लिए अभी कोई आदेश नहीं

सचिन पायलट को आखिरी पंक्ति में मिली सीट, बोले बॉर्डर पर सबसे ताकतवर योद्धा को भेजा जाता है

देश में 1300 से ज्यादा Islands

पीएम मोदी ने आगे कहा कि हमारे देश में 1300 से ज्यादा Islands हैं। इनमें से कुछ चुनिंदा Islands को, उनकी भौगोलिक स्थिति को ध्यान में रखते हुए, देश के विकास में उनके महत्व को ध्यान में रखते हुए, नई विकास योजनाएं शुरू करने पर काम चल रहा है। बीते वर्ष मैंने यहीं लाल किले से कहा था कि पिछले पांच साल देश की अपेक्षाओं के लिए थे, और आने वाले पांच साल देश की आकांक्षाओं की पूर्ति के लिए होंगे। बीते एक साल में ही देश ने ऐसे अनेकों महत्वपूर्ण फैसले लिए, अनेकों महत्वपूर्ण पड़ाव पार किए।

 

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here