कृषि कानूनों को वापस लिए जाने तक जारी रहेगा आंदोलन : राकेश टिकैत

0
139

गुरुग्राम। भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के नेता राकेश टिकैत रविवार को गुरुग्राम में कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों के धरना स्थल पर पहुंचे। उन्होंने धरना स्थल पर लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आंदोलन तब तक खत्म नहीं होगा, जब तक सरकार नए कृषि कानूनों को वापस नहीं ले लेती। टिकैत ने आरोप लगाया कि नए कृषि कानून सिर्फ पूंजीपतियों के फायदे के लिए बनाए गए हैं। इन कानूनों से किसानों का भारी नुकसान होने वाला है। उन्होंने कहा कि जब तक किसानों की मांगें नहीं मानी जाएंगी, तब तक किसान दिल्ली की सीमाओं पर डटे रहेंगे और इन कानूनों का विरोध करते रहेंगे।

उन्होंने कहा कि जल्द ही राजस्थान के किसान भी दिल्ली की सीमा पर पहुंचेंगे। उन्होंने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा, गुरुग्राम को उन्हें हरसंभव मदद करनी चाहिए।

gaziabad: श्मशानघाट की छत गिरने से 18 लोगों की मौत, अभी और शव दबे होने की आशंका, रेस्क्यु जारी

संयुक्त किसान मोर्चा के अध्यक्ष चौधरी संतोख सिंह ने आश्वासन दिया कि राजस्थान से आने वाले सभी किसानों को हर संभव मदद दी जाएगी।

प्रदर्शन स्थल पर मौजूद भारतीय किसान यूनियन के महासचिव युद्धवीर सिंह ने आरोप लगाया कि सरकार किसानों को गुमराह कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार को तीन कृषि कानूनों को खत्म करना चाहिए।

meerut: जिला जेल में बंदी युवक ने फांसी लगाकर दी जान, पहले पत्नी भी कर चुकी है आत्महत्या

एक संयुक्त बयान में, संतोख सिंह ने कहा कि कड़ाके की ठंड के बावजूद, कई श्रमिक संगठनों के सैकड़ों कार्यकर्ता भी किसानों की मांगों के समर्थन में धरने पर बैठे हैं।

उन्होंने कहा कि किसानों के लिए उनका समर्थन तीन कृषि कानूनों के वापस लिए जाने तक जारी रहेगा।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here