Lucknow: प्रदेश में 16 अगस्त तक Weekly lockdown, आगामी 31 जुलाई को खत्म हो रही है मियाद

0
159

Lucknow: प्रदेश में कोरोना संक्रमण (CoronaVirus Infection) की बढ़ी रफ्तार को देखते हुए सरकार राज्‍य में जारी लॉकडाउन (Lockdown) को एक अगस्‍त से 16 दिनों के लिए बढ़ा सकती है। सरकार ने यह कदम राज्‍य में कोरोना (CoronaVirus) के बढ़ते मामलों को देखते हुए माना जा रहा है। इस दौरान अभी जारी लॉकडाउन के नियम ही लागू रहेंगे। कंटेनमेंट जोन (Containment Zone) में सख्‍ती पहले की तरह ही जारी रहेगी। जहां तक स्‍कूल-कॉलेज (School-College) खुलने की बात है, यह फिलहाल संभव नहीं दिख रहा है।

31 जुलाई को खत्म हो रहा है दो दिवसीय लॉकडाउन का समय :—

सरकार ने कोरोना के संक्रमण पर अंकुश लगाने के लिए सरकार ने प्रदेश में सप्ताह में दो दिवसीय लॉकडाउन लगाया था। जिसकी अवधि आगामी 31 जुलाई को खत्म हो रही थी। सूत्रों की माने तो अब इसकी अवधि बढ़ाने पर विचार चल रहा है। इस संबंध में राज्य सरकार के आला अधिकारियों के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बैठकर जल्द ही निर्णय लेंगे। बैठक में समीक्षा के बाद इसकी घोषणा की जाएगी। लेकिन यह तय है ​कि सापताहिक लॉकडाउन की अवधि को 16 दिन तक के लिए बढ़ा दिया जाएगा। यह एक अगस्त से बढ़ाकर अगले 16 दिनों के लिए प्रभावी रहेगी।

50 फीसद कर्मिचारियों के साथ खोले जाएंगे कार्यालय :—

यह लॉकडाउन पूर्व की तरह ही होगा। लेकिन इसमें कुछ रियायते दी गई हैं। सरकारी दफ्तरों को 50 फीसद कर्मचारियों के साथ खोलने का आदेश दिया गया है। इसके साथ ही निजी क्षेत्र के कार्यालय को भी 50 फ़ीसद कर्मचारियों के साथ खोला जा सकता है।लॉकडाउन में सभी शैक्षणिक संस्थान बंद रहेंगे। सभी धार्मिक स्थलों को भी बंद रखने के आदेश दिए गए गए हैं। सभी प्रकार के राजनीतिक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों पर भी रोक जारी रहेगी। जबकि, कुछ वक्त के लिए सार्वजनिक पार्कों को खोलने की अनुमति दी गई है।

स्‍कूल-कॉलेज सहित सभी शिक्षण संस्‍थान फिलहाल बंद रहेंगे। अगस्त में शिक्षण संस्‍थान खोलने की कोई योजना नहीं है। यूजीसी की नई गाइडलाइन के अनुसार विश्‍वविद्यालयों को सितंबर तक अपनी फाइनल ईयर की परीक्षाएं करा लेनी है। कुछ परीक्षाएं ऑनलाइन तो कुछ ऑफलाइन कराई जाएंगी। इस बाबत क्‍या फैसला होता है, यह देखना अभी बाकी है। राज्‍य के शिक्षा मंत्री पहले ही कह चुके हैं कि शिक्षण संस्‍थानों को खोलने का फैसला अभिभावकों की आम राय से लिया जाएगा।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here