Hathras में गुस्साए लोगों ने पुलिस पर किया पथराव, फिर चले आंसू गैस के गोले, सीएम योगी ने SIT का किया गठन

हाथरस में दलित युवती के साथ गैंगरेप और 15 दिन बाद उसकी मौत के बाद से लोगों में गुस्सा है। बुधवार को लोगों ने पुलिस पर पथराव किया। पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े। इस मामले में सीएम योगी आदित्यनाथ ने एसआईटी का गठन कर दिया है, जो एक सप्ताह में अपनी रिपोर्ट देगी।  

0
261

हाथरस। हाथरस के चंदपा क्षेत्र की बेटी के साथ दुष्कर्म और मंगलवार को हुई उसकी मौत से लोगों में जबरदस्त गुस्सा है। बुधवार को दुष्कर्म के आरोपियों को फांसी की सजा दिए जाने की मांग को लेकर लोगों ने पुलिस पर अपना जमकर गुस्सा उतारा और पथराव कर दिया। इससे पुलिस की गाड़ियों के शीशे टूट गए। उग्र हुए लोगों को रोकने के लिए पुलिस ने आंसू के गोले छोड़े। इससे लोगों में भगदड़ मच गई।

यह भी पढ़ें: Meerut में भाजपाइयों ने पुलिस अफसर पर लगाया ​अभद्रता का आरोप, सांसद तक पहुंची शिकायत

बुधवार को सासनी गेट क्षेत्र में दुष्कर्म के आरोपियों को फांसी दिए जाने की मांग को लेकर जुलूस निकाल रहे लोगों ने पुलिस पर पथराव किया गया है। बेकाबू भीड़ ने पुलिस की गाड़ी के शीशे तोड़ डाले। घबराए दुकानदारों ने दुकानें बंद कर धड़ाधड़ शटर गिराए। 14 सितंबर को हाथरस के चंदपा क्षेत्र में चार लोगों ने अनुसूचित जाति की लड़की का सामूहिक दुष्कर्म किया और फिर गला दबाकर उसे मारने की कोशिश भी की, जिससे पीड़िता की जीभ चोटिल हो गई। पीड़िता का इलाज अलीगढ़ में चला। सोमवार को उसे दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां मंगलवार की सुबह छह बजे पीड़िता की मौत हो गई।

यह भी पढ़ें: दुष्कर्म पीड़िता का मेडिकल नहीं कराने पर अड़ा दरोगा, जानिए क्या है पूरा मामला

उसके शव का पोस्टमार्टम किया गया और शाम को शव हाथरस के लिए रवाना कर दिया गया। यहां लाकर पुलिस ने जबरन सुबह करीब पौने तीन बजे शव का अंतिम संस्कार कर दिया। इसके बाद से लोग इस मामले को लेकर ज्यादा आक्रोशित हैं। हाथरस दुष्कर्म कांड पर देश भर में हो रहे प्रदर्शन और राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप के बीच योगी सरकार ने मामले की जांच के लिए तीन सदस्यीय एसआईटी का गठन कर दिया है। इसकी अध्यक्षता गृह सचिव भगवान स्वरूप करेंगे। एसआईटी एक सप्ताह में अपनी जांच रिपोर्ट सौंपेगी।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here