कम कीमत में बेहतरीन SmartPhone, आपका बैंक अकाउंट हो सकता है खाली

चीन की कई कंपनियां बहुत सस्ती कीमत में बेहतरीन फीचर वाले स्मार्टफोन लॉन्च कर रही हैं

0
185

मेरठ। अगर आप भी स्मार्टफोन खरीदना चाहते हैं और आपके पास पैसे कम हैं तो आपने जरूर इस तरह के विकल्प पर ध्यान दिया होगा. आज तक चीन की कई कंपनियां बहुत सस्ती कीमत में बेहतरीन फीचर वाले स्मार्टफोन लॉन्च कर रही हैं. क्या आपने कभी यह ध्यान दिया है कि चीन की कंपनियां इतनी सस्ती कीमत में इतने बेहतर फीचर वाले स्मार्टफोन लॉन्च करने के बदले आपसे क्या चाहती हैं? अगर 64 मेगापिक्सल कैमरा और 128GB इंटरनल मेमोरी के साथ 6GB रैम वाला कोई स्मार्टफोन आपको ₹10,000 से कम कीमत में मिलता है तो इसका मतलब यह नहीं है कि वह कंपनी आपको यह सारी सुविधा सिर्फ इसलिए सस्ती कीमत पर दे रही है क्योंकि उसकी ब्रांडिंग नहीं हो पाई है. वास्तव में यह कंपनियां आपके मोबाइल में पहले से इंस्टॉल ऐप की मदद से आपके पैसे चोरी कर रही हैं.

 सौरभ चौधरी को आज मिलेगा अर्जुन अवार्ड, corona के चलते online मिलेगा सम्मान

स्मार्टफोन के लिए सिक्योरिटी सेवा देने वाली कंपनियां सिक्योर डी और बज फीड ने एक चीनी स्माटफोन ब्रांड टेक्नो में कुछ ऐसे प्रीइंस्टॉल ऐप की खोज की है जो न सिर्फ यूजर के आंकड़े चुराती हैं, बल्कि पहले से डिवाइस में इंस्टॉल मैलवेयर की मदद से ग्राहकों के पैसे भी चुराती है. वास्तव में उभरते अर्थव्यवस्था वाले देशों में चीन की स्मार्टफोन कंपनियों ने अपनी डिवाइस की बाढ़ ला दी है. यह कंपनियां बेहतरीन स्पेसिफिकेशन और फीचर्स वाले स्मार्टफोन बहुत सस्ती कीमत में बेच रही है. पहले ग्राहकों को यह समझ नहीं आता कि स्मार्टफोन कंपनियां इतने सस्ते मोबाइल क्यों बेच रही है, लेकिन एक बार फोन खरीदने के बाद जब आप गूगल पे और फोन पर के साथ ट्रांजेक्शन शुरू करते हैं तब उन्हें पता चलता है कि उनके बैंक अकाउंट से पैसे कहीं और भी ट्रांसफर किए जा रहे हैं.

मोहर्रम व गणेश मूर्ती विसर्जन पर रहेगा पूर्ण प्रतिबंदः SDM

स्मार्टफोन में सुरक्षा उपलब्ध कराने वाली कंपनियों ने यह पाया है कि कई मैलवेयर चीन के इन सस्ते स्मार्टफोन में पहले से डले हुए होते हैं जिसके बारे में ग्राहकों को पता नहीं चल पाता. इस तरह के एक सॉफ्टवेयर ने साल 2009 में 8,44,000 से अधिक फर्जी ट्रांजैक्शन को रोकने में सफलता हासिल की है. टेक्नो नाम की यह फोन कंपनी अफ्रीका, इंडोनेशिया और भारत में हर साल लाखों स्मार्टफोन बेचती है. चीन की स्मार्टफोन कंपनियों के डाटा चोरी करने का यह कोई पहला मामला नहीं है. इससे पहले जर्मनी की एक सिक्योरिटी कंपनी ने भी बताया था कि कैसे चीन के सस्ते स्मार्टफोन ब्रांड जो सैमसंग गैलेक्सी स्मार्टफोन की तरह दिखते हैं, बहुत सस्ते में बेचे जाते हैं. उसमें पहले से ऐसे सॉफ्टवेयर इंस्टॉल होते हैं जो आपके डाटा की चोरी कर उसे चाइना में मौजूद सर्वर को भेजते हैं.

दिग्गजों को मात दे, मोहित बेनिवाल बने BJP वेस्ट के क्षेत्रिय अध्यक्ष, उठने लगे बगावत के शुर

इससे पहले अमेरिका की एक अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स के एक आर्टिकल में बताया गया था कि चीन की स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनी ब्लू आपके व्यक्तिगत और व्यवहारिक आंकड़े चीन में मौजूद सर्वर को भेज देती है. यह फोन कंपनियां आपके टेक्स्ट मैसेज, कांटेक्ट लिस्ट, कॉल लॉग, लोकेशन की जानकारी और अन्य आंकड़े बिना आपको बताए चीन में मौजूद सर्वर पर भेज देती है. इसके साथ ही भारत में कामकाज कर रही चीन की बड़ी कंपनियों में से एक शिओमी, जिसनके स्मार्टफोन रेडमी नाम से बेचे जाते हैं, उस पर भी आरोप लगा था वह अपने स्मार्टफोन यूजर की हर एक्टिविटी को ट्रैक कर सकती है.

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here