आर्य समाजी नेता Swami Agnivesh का निधन, मल्टी ऑर्गन फेल्योर बनी वजह

अन्ना हजारे के साथ भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन में शामिल रहे स्वामी ​अग्निवेश हरियाणा के पूर्व विधायक भी थे। उनकी सामाजिक ​सक्रियता काफी थी। विभिन्न मुद्दों पर वह खुलकर बोलते थे।

0
151

नई दिल्ली। आर्य समाज (Arya Samaj) के नेता और सामाजिक कार्यकर्ता (Social Activist) स्वामी अग्निवेश (Swami Agnivesh) का शुक्रवार को निधन हो गया। मल्टी ऑर्गन फेल्योर के कारण वह मंगलवार से वेंटिलेटर पर थे। अग्निवेश दिल्ली के इंस्टीट्यूट ऑफ लिवर एंड बिलेरी साइंसेज में भर्ती थे।अस्पताल ने उन्हें लिवर सिरोसिस नामक बीमारी बताई थी। गुरुवार से ही उनकी हालत गंभीर बनी हुई थी। उन्होंने शुक्रवार की शाम 6.30 बजे अंतिम सांस ली। स्वामी अग्निवेश 80 वर्षीय के थे।

यह भी पढ़ें: Baghpat में जहरीली शराब पीने से छठवीं मौत और Meerut में तीन, पुलिस-आबकारी विभाग में मचा हड़कंप

हरियाणा के पूर्व विधायक 80 वर्षीय अग्निवेश ने 1970 में एक राजनीतिक पार्टी आर्य सभा की स्थापना की, जो आर्य समाज के सिद्धांतों पर आधारित थी। वह धर्मों के मामलों में वार्ता के लिए एक वकील भी हैं। अग्निवेश सामाजिक सक्रियता के विभिन्न क्षेत्रों में शामिल थे, जिसमें कन्या भ्रूण हत्या के खिलाफ जैसे अभियान शामिल थे। अग्निवेश जन लोकपाल विधेयक लागू करने के लिए 2011 में अन्ना हजारे के भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन में भी शामिल हुए थे। वह अन्ना के प्रमुख सहयोगियों में शामिल थे। अग्निवेश सामाजिक मुद्दों पर अपनी राय खुलकर रखते थे। वह हरियाणा से पूर्व विधायक और हरियाणा सरकार में शिक्षा मंत्री भी रहे चुके थे। उन्होंने 1981 में बंधुआ मुक्ति मोर्चा नाम के संगठन की स्थापना की थी। साथ ही रियलिटी शो बिग बॉस में तीन दिन के लिए घर में भी रहे थे।

यह भी पढ़ें: CCSU Meerut: एमबीबीएस की कॉपी बदलने के प्रकरण में अब डिप्टी रजिस्ट्रार पर बड़ी कार्रवाई

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here