लखनऊ। कोपनहेगन और पेरिस जैसे जलवायु समझौते के माध्यम से जहां धरती के बढ़ते तापमान को लेकर चिंता और मंथन का दौर जारी है, वहीं हमारे देश में उत्तर प्रदेश का एक अफसर ऐसा भी है, जो ‘वन मैन आर्मी’ बन पर्यावरण की अलख जगाने में जुटा है। अपनी पर्यावरण और जल संरक्षण नीति को लेकर यह अफसर अपने मुल्क में तो लोकप्रियता बटोर ही रहा है, अब उसके अनूठे और प्रभावी प्रयासों की चर्चा विदेशों तक भी होने लगी है।

 Exam की तैयारी पूरी, रुम में बैठेंगे एक तिहाई students, सोशल डिस्टेंसिंग रखा जाएगा पूरा ध्यान

Former President Pranab Mukherjee नहीं रहे, 84 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

जिला मुख्यालय पर तैनात मांगेराम चौहान

दरअसल, हम बात कर रहे हैं, यूपी के अमरोहा में तैनात एसडीएम मांगेराम चौहान की। जिला मुख्यालय पर तैनात मांगेराम चौहान ने पर्यावरण को बचाने के लिए एक मुहिम छेड़ रखी है। इसका नतीजा यह है कि पोलैंड में पर्यावरण संरक्षण को लेकर काम कर रहीं योअन्ना गावलचेक (Gawrylczyk) नाम की महिला ने न केवल SDM मांगेराम द्वारा किए जा रहे प्रयासों की प्रशंसा की, बल्कि अपने भारत भ्रमण के दौरान उन्होंने उनसे मुलाकात भी की।

बीजेपी नेता ने की कंगना के लिए पुलिस सुरक्षा की मांग, कंगना ने कहा – नो मुम्बई पुलिस प्लीज

सड़क हादसे में पांच लोगों की मौत, ड्राइवर को नींद की झपकी लगने से हुआ हादसा

पोलैंड में कार्यरत जिंदल हास्पिटल धनौरा के चिकित्सक डॉक्टर दिलबाग

दरअसल, पोलैंड में कार्यरत जिंदल हास्पिटल धनौरा के चिकित्सक डॉक्टर दिलबाग एवं उनकी पत्नी डॉ. राधा पोलैंड की राजधनी वार्सा में दूतावास से जुड़े हैं। डॉ. जिंदल ने जब वॉरसॉ में पर्यावरण जैसे मामलों से जुड़ी पोलैंड निवासी योअन्ना गावलचेक को भारत में SDM मांगेराम चौहान द्वारा पर्यावरण बचाओं को लेकर किए जा रहे प्रयासों के बारे बताया तो वो काफी प्रभावित हुईं।

Agra में हुए तीहरे हत्याकांड से मचा कोहराम, घर में सोते हुए दंपति और बेटे की हत्या, शवों को जलाने की भी कोशिश

गावलचेक ने उपजिलाधिकारी मांगेराम से औपचारिक भेंट की

इस दौरान डॉ. दंपत्ति के साथ भारत भ्रमण पर आईं 26 वर्षीय गावलचेक ने जिंदल हॉस्पिटल के शिष्टमंडल के साथ उपजिलाधिकारी मांगेराम चौहान से औपचारिक भेंट की। गावलचेक ने एसडीएम से मुलाकात के दौरान न केवल पर्यावरण से जुड़े मुद्दों पर बातचीत की, बल्कि फल व सब्जियों आदि की ख़रीदारी करने पर दुकानदारों द्वारा कागज अथवा कपड़ों के थैले उपयोग करने की भी प्रशंसा की। उन्होंने बताया कि यूरोपियन देशों में प्लास्टिक के अतिप्रयोग का अंत बहुत आवश्यक है।

मेरठः युवती को धारदार हथियार से अधमरा करने वाले आरोपी भाई और जीजा गिरफ्तार

Meerut: Rajpal Singh को मिली मेरठ की कमान, सपा हाईकमान ने फिर बनाया जिलाध्यक्ष

अनोखे एवं कारगर सरकारी प्रयासों के लिये प्रसन्नता जताई

गावलचेक ने इस दौरान SDM के द्वारा किये जा रहे वृक्ष और जल संरक्षण के लिये अनोखे एवं कारगर सरकारी प्रयासों के लिये प्रसन्नता जताई। एसडीएम ने गावलचेक को बताया कि वो कैसे गांव-गांव घूमकर पर्यावरण प्रहरियों की फौज खड़ी कर रहे हैं। शिष्टमंडल का प्रतिनिधित्व जिंदल हास्पिटल के प्रबंध निदेशक डॉ.बी.एस.जिंदल ने किया। इस मौके पर उनके साथ अधिवक्ता सर्वेश शर्मा, नवदुर्गा भक्तमंडल के पं.हरीओम त्रिवेदी आदि मौजूद थे। SDM मांगेराम ने बताया धनौरा में तैनाती के दौरान उनकी पोलैंड निवासी पर्यावरणविद से मुलाकात हुई थी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here