Amroha: पर्यावरण सुरक्षा का केंद्र बनी SDM की कोर्ट, पौधे लगाने की शर्त पर मिल रही जमानत

देश के उत्तर प्रदेश राज्य में एक अफसर ऐसा भी जिसने पर्यावरण को सुधारने का बीड़ा उठा लिया है

0
436

अमरोहा। भारत में हर साल जहां वायु प्रदूषण की वजह से हर साल लगभग 12 से 14 लाख लोग काल के गाल में समा रहे हैं, वहीं देश के उत्तर प्रदेश राज्य में एक अफसर ऐसा भी जिसने पर्यावरण को सुधारने का बीड़ा उठा लिया है। इस अफसर ने न केवल ग्राम से तहसील स्तर तक लोगों को प्रर्यावरण के प्रति जागरुक किया है, बल्कि कुछ ऐसी योजनाएं भी लागू की हैं, जिससे क्षेत्र में हर साल हजारों लाखों पौधे लगाए जा रहे हैं। हम बात कर रहे हैं यूपी के अमरोहा जनपद की। अमरोहा SDM मांगेराम चौहान ने पर्यावरण प्रहरी बन सूबे के अन्य अफसरों के लिए भी मिसाल कायम की है।

 Amroha: पर्यावरण सुरक्षा का केंद्र बनी SDM की कोर्ट, पौधे लगाने की शर्त पर मिलती है जमानत

अपराध रोकने के लिए ADG जोन का नया प्लान, नहर के किनारे बनेंगी 20 पुलिस चौकी

पौधों की निगरानी के लिए बनाई टीम

दरअसल, अमरोहा SDM मांगेराम चौहान ने पौधरोपण के माध्यम से जिले में प्रर्यावरण को बचाने की मुहिम चला रखी है। यह उनके कुशल प्रयासों का ही परिणाम है कि पिछले एक साल में उनकी मुहिम के तहत कई हजार पौधे लगाए जा चुके हैं। सबसे बड़ी बात यह है कि मांगेराम चौहान लोगों को केवल पौधा लगाने के लिए ही प्रेरित नहीं करते हैं, बल्कि उन्होंने पौधों को लगाने से लेकर उनके पालन और बड़ा होने तक निगरानी के लिए भी टीम बना रखी है। आलम यह है कि रोजमर्रा में शिकायत ​सुनने के दौरान भी वह लोगों को पौधे लगाने के लिए प्रेरित करते नजर आते हैं।

Mawana में डॅाक्टर ने किया युवती से रेप, दवाई देने के बहाने बुलाई थी घर

पर्यावरण सुरक्षा का ऐसे आया विचार

एसडीएम मांगेराम चौहान से जब उनकी पर्यावरण बचाओं की मुहिम की शुरुआत के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि यह 10 जून 2019 की बात है, जब वह एक दिन टीवी पर न्‍यूज देख रहे थे। तो न्यूज में बताया गया कि उस दिन पालम एयर पोर्ट का तापमान 50 डिग्री पुहंचने वाला है। ऐसा देखकर मांगेराम चिंतित हो गए और कुछ इसी कश्मकश के साथ अपने कार्यालय पहुंचे। इस दौरान उनकी कोर्ट में मारपीट का एक केस आया। दरअसल, शांति भंग में बंद क्षेत्र के दो लोगों को उनकी कोर्ट में लाया गया।

NCERT की नकली बुक छापने के मामले हुआ चौंकाने वाला खुलासा, जानकर रह जाएंगे हैरान

SDM ने बकायदा एक आदेश जारी कर दिया

एसडीएम ने बताया कि इस मामले को देखकर उनके दिमाग में एक विचार कौंधा। उन्‍होंने दोनों लोगों को पेड़ लगाने की शर्त पर जमानत दे दी। इसके बाद एसडीएम ने बकायदा एक आदेश जारी कर दिया। इस आदेश में उन्होंने कहा कि आरोपी को 5 और जमानती काे एक-एक पौधा लगाना होगा। इसका मतलब शांति भंग के एक मामले में केस से जुड़े लोगों को कम से कम 7 पौधे लगाने होंगे।

Meerut: BKU पदाधिकारियों ने MDA को घेरा, किसानों का गुस्सा देख घबराए अफसर

UP: देवरिया से BJP MLA Janmejaya Singh का निधन, मुख्यमंत्री योगी ने जताया शोक

ग्राम स्तर पर 5 से 10 लड़कों की टीमें भी बनाई

यही नहीं एसडीएम मांगेराम चौहान ने इसके बाद ग्राम स्तर पर 5 से 10 लड़कों की टीमें भी बनाई, जो पर्यावरण प्रहरी के रूप में अपनी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी निभा रहे हैं। मांगेराम ने बताया कि इस बीच सरकार की ओर से आए 22 करोड़ पौधे लगाने के आदेश के चलते उन्होंने वृक्ष सुरक्षा बंधन मनाया। जिसका कार्य लगाए गए पौधों की निगरानी और देखभाल करना था। इस दौरान उन्होंने हर नागरिक को 5 पेड़ों को सुरक्षा सूत्र बांधकर पौधों की देखभाल करने की शपथ दिलाई।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here