गुरु को अवार्ड न मिलने से नाराज अर्जुन अवार्डी अलका तोमर,गुरु द्रोणाचार्य अवॉर्ड पर लगाया प्रश्नचिन्ह…

अलका तोमर व गुरु जबर सिंह ने लिखा लेटर

0
202

MEERUT। अर्जुन अवार्डी Alaka tomar ने अपने गुरु जबर सिंह सोम को द्रोणाचार्य अवार्ड के लिए नामित नहीं किए जाने पर नाराजगी जाहिर की है। उनका मानना है कि गुरु जबर सिंह सोम के योग्यता आंकड़े को चयन समीति ने दरकिनार किया है।  उन्होने बताया कि वह इस बारे में खेल मंत्री किरण रिजजू को पत्र लिख चुकी है। साथ ही उन्होंने मेरठ के सांसद राजेंद्र अग्रवाल को भी शिकायत दर्ज की है।

Rapid Rail परियोजना को लगेंगे पंख, ADB ने 7500 करोड़ का ऋण किया मंजूर

योग्यता में पीछे होने पर भी नामित

दंगल गर्ल अच्छे-अच्छे को पछाड़ने वाली Alaka tomar ने अपने गुरु को द्रोणाचार्य अवार्ड नहीं दिए जाने को लेकर बहुत ही गुस्सा जताया है। उन्‍होंने अवार्ड के लिए नांमकन करने वालों पर भी गंभीर आरोप लगाया है। उन्होंने बताया द्रोणाचार्य अवार्ड के लिए जिनकों अवार्ड दिया जा रहा है। वे जबर सिंह सोम से योग्यता के मामले मे पीछे हैं। इसके साथ ही कम कामयाब हैं। बताया कि जबर सिंह सोम सौ से अधिक खिलाडि़यों को ट्रेंड कर चुके हैं। इनमें से 60 खिलाड़ी ऐसे हैं, जो राष्‍ट्रमंडल खेलों से लेकर राष्‍ट्रीय खेलों में मेडल जीत चुके हैं। उन्होंने कहा कि द्रोणाचार्य अवार्ड नहीं दिए जाने को लेकर वे खेल मंत्री को पत्र लिखा है। साथ ही इसकी एक प्रति पीएम को भी भेजेंगी। इसके अलावां क्षेत्र के विधायक और सांसद को भी इसकी प्रति भेंट करेंगी।

मेरठ का यह बेटा बनेगा अर्जुन अवार्डी, अन्य खिलाड़ियों के नाम की भी सिफारिश…

2007 में पा चुकी हैं अर्जुन अवार्ड

Alaka tomar ने अच्‍छा प्रदर्शन करते हुए 2010 में राष्‍ट्रमंडल खेल में गोल्‍ड मेडल जीता था। इसके अलावा इनके पास कई बड़े-छोटे पु‍रुस्‍कार है। गुरु जबर सिंह ने बताया इस संबंध में खिलाड़ी अलका तोमर एवं उन्होंने दोनों ने मिलकर मेल के जरिए एवं पत्र ज्ञापन के जरिए खेल मंत्री को शिकायत की है। साथ ही सांसद को भी शिकायत की है। उन के माध्यम से खेल मंत्री को ज्ञापन भी सौंपा है। जबर सिंह का कहना है कि जिन को यह अवार्ड मिला है। उनके शिष्यों में किसी को भी इस योग्यता का अवार्ड नहीं मिला है। जिस योग्यता का उनके गुरु जबर सिंह जी के शिष्यों को मिल चुका है।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here