दबे पांव वेस्ट यूपी में लश्करे तोएबा की घुसपैठ, दिल्ली से आतंकी की गिरफ्तारी के बाद प्रदेश में अलर्ट

खुफिया एजेसिंयों के इनपुट के बाद विशेष चौकसी के निर्देश, दिल्ली में एक आतंकी दबोचा गया

0
188

MEERUT। अब वेस्ट यूपी के आला हुक्मरानों ने भी इस बात को मान लिया है कि दिल्ली से सटे वेस्ट यूपी के जिलों  पर विश्व के सबसे खतरनाक आतंकी संगठन लश्करे तोएबा की नजरे जमी हुई हैं। खुफिया एजेंसी से मिले इनपुट के बाद प्रदेश के (DGP Hitesh Awasthi) सुबे में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी करने के निर्देश जारी किए हैं। यह बात इससे और पुख्ता हो जाती है कि दिल्ली में आज एक आतंकी पकड़ा भी गया है। हालाकि intelligence Agency से मिले इनपुट के अनुसार आतंकियों की संख्या तीन होना बताया था। इसके बाद ADG मेरठ राजीव सब्बरवाल ने जोन के सभी पुलिस कप्तानो को विशेष सतर्कता बरतने के लिए कहा है।

35 करोड़ की NCERT की किताबें जब्त, अवैध रुप से हो रही थी छपाई

बतादें कि खुफिया एजेंसियों ने दिल्ली में लश्कर ए तोएबा के तीन आतंकियों के दिल्ली एनसीआर में प्रवेश की जानकारी दी थी। जिसके बाद से दिल्ली और पूरे(Ncr) में अलर्ट घोषित कर दिया गया है। मेरठ जोन में विशेष चौकसी बरतने का निर्देश एडीजी ने दिए है। पुलिस-प्रशासन के सभी अफसरों सहित पुलिसकर्मियों को सतर्क रहने के लिए कहा है।  साथ ही पुलिस ने होटल, मॉल और सार्वजनिक स्थानों पर चेकिंग अभियान चला रखा है।

DELHI में आज एक आतंकी को दबोच लिया गया। जिसके बाद प्रदेश में पुलिस-प्रशासन ने अतिरिक्त चौकसी बरतनी शुरू कर दी। मेरठ जोन के(ADG Meerut Rajiv Sabharwal) ने बताया कि त्योहारों को लेकर हम पहले से अलर्ट पर हैं। केंद्र और राज्य सरकारों सहित सभी खुफिया-सुरक्षा एजेंसियों का इनपुट आपस में शेयर कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि दिल्ली-एनसीआर के नजदीक होने के कारण मेरठ जोन में ज्यादा चौकसी बरती जा रही है। एसएसपी अजय साहनी ने बताया कि त्योहार के मद्देनजर जिले में सभी थानों का अलर्ट किया गया है। सर्किल ऑफिसर और थानेदारों को अपने-अपने क्षेत्र में 24 घंटे अलर्ट रहने का निर्देश दिए। सीओ बिना परमिशन अपना सर्किल नहीं छोड़ेगे। एसएसपी ने बताया कि सुरक्षा के मद्देनजर हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। प्रमुख प्वाइंट्स पर तैनाती के लिए पीएसी और आरएएफ मांगी गई है। इसके अलावा पुलिस सादी वर्दी में भी कुछ प्वाइंटों पर तैनात रहेगी। ताकि कोई चूक न हो सके।

सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस से जुड़े वो 15 सवाल जिनके जवाब सीबीआई को तलाशना जरूरी हैं !

पहले भी जुड़ें रहे हैं तार

वेस्ट यूपी पहले भा आतंकियों की शरणास्थली रही है। कई साल पहले अब्दुल करीम टूंडा तीन पाक आतंकियों के साथ बुलंदशहर आया था। 2008 में शामिल रहे 13 आतंकवादियों में  बुलंदशहर का शकील भी था। 2008 तक उसका नाम वोटर लिस्ट में भी था। सन 2016 में भी सेना की गोपनीय जानकारी पाकिस्तान में अपने आकाओं को देने के आरोप में मेरठ से एक शख्स को गिरफ्तार किया गया था।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here