Breaking: सौतेली मां और पिता से परेशान बेटे ने रची थी अपने ही अपहरण की साजिश, पुलिस ने दिल्ली से किया बरामद

0
231

मेरठ। मंगलवार को शास्त्रीनगर के ट्रांसपोर्टर का बेटा दिल्ली से बरामद हो गया है। पुलिस की टीम बच्चे को लेकर मेरठ के लिए हुई रवाना हो गई है। देर शाम ट्रांसपोर्टर के बेटे के किडनैप के मामले में मेरठ पुलिस और एसटीएफ की टीम ने ट्रांसपोर्टर के बेटे का बरामद किया। बेटे के पास से 9.31 लाख रुपये लेकर गया था बेटा, पुलिस ने गायब हुई रकम भी बरामद कर ली है। एसएसपी अजय साहनी के अनुसार ट्रांसपोर्टर का बेटा सौतेली मां और पिता से प्रताड़ित था। चिट्ठी, मैसेज छोड़कर वह घर से गायब हो गया था। उसने खुद ही अपने किटनैप की साजिश रची थी। अपनी दोनों बहनों को भी घर से ले जाना चाहता था। पुलिस ने 18 घंटे में केस का खुलासा किया। पुलिस टीम को सरकार से एक लाख रुपये के इनाम की घोषणा की गई है।

यह भी पढ़ें: CCSU Meerut: ओपन मेरिट लिस्ट के बाद भी Admission लेने वालों का टोटा, विश्वविद्यालय ने उठाया ये कदम

शास्त्रीनगर के सेक्टर 12 में मोहम्मद आसिफ परिवार के साथ रहते हैं। हापुड़ में आसिफ का ट्रांसपोर्टर का काम है। सोमवार को आसिफ के पिता हसरत अली की तबीयत अचानक बिगड़ गई, हजरत अली किठौर के राधना गांव रहते हैं। रोजाना की तरह आसिफ अली ट्रांसपोर्ट पर गए थे, उसी समय आशिक की पत्नी एक बेटे को लेकर राधना में चली गई। उस समय घर पर आसिफ अली का बेटा 15 वर्षीय आरिफ और 13 वर्षीय बेटी आयशा मौजूद थी। आयशा ने पुलिस को बताया दोपहर को खेलते हुए मकान की छत पर चली गई थी।

यह भी पढ़ें: लड़की बनकर पांच लड़के 200 से ज्यादा युवकों बना चुके थे शिकार, ब्लैकमेल करने का पढ़िए ये हैरत करने वाला राज

उस समय आरिफ नीचे खेल रहा था। दोपहर को करीब पौने दो बजे अचानक की आसिफ के मोबाइल पर एक मैसेज आया, जिसमें 50 लाख की रंगदारी मांगी गई। उस समय मोबाइल आसिफ की बेटी आयशा के पास था। मैसेज को देख कर आयशा पिता को मामले की जानकारी दी। उसके बाद आसिफ समेत परिवार के अन्य सदस्य घर पहुंचे तब मामले की जानकारी पुलिस को दी गई। अपहरण की सूचना पर एसपी सिटी नौचंदी थाना पुलिस और आसपास के कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंची थी। बच्चे की तलाश के लिए पुलिस पूरे मामले की छानबीन की।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here