Baghpat: लोहा व्यापारी के अपहरण और फिरौती की साजिश रची रिश्ते के दामाद ने साथियों के साथ, राज खुला तो सब रह गए अवाक

बागपत के कस्बा बड़ौत के लोहा व्यापारी के अ​पहरण और फिरौती की साजिश उसके रिश्ते में लगने वाले दामाद ने अपने साथियों के साथ की थी। पुलिस ने इस संबंध में आठ आरोपियों को गिरफ्तार किया है। एसपी बागपत ने इस घटना से पर्दा भी उठाया।

0
167

बागपत। Baghpat News, जनपद के बड़ौत (Baraut) के लोहा व्यापारी आदिश जैन के अपहरण और एक करोड़ रुपये की फिरौती (Kidnapping And Ransom) मांगने की साजिश रिश्ते के दामाद (Accused Son-In-Law) गौरव जैन ने अपने दोस्त अभिषेक जैन के साथ मिलकर रची थी। वारदात में दोनों व्यापारियों समेत आठ आरोपियों (Eight Arrested)  को पुलिस (Baghpat Police) ने गिरफ्तार किया है। जब इसका घटना का राज खुला तो परिवार के लोग समेत पुलिस अफसर भी अवाक रह गए। एसपी अभिषेक सिंह (SP Baghpat Abhishek Singh) ने पत्रकार वार्ता करके पूरी घटना का खुलासा किया।

यह भी पढ़ेें: Baghpat का अपहृत लोहा व्यापारी कुछ ही घंटों में बरामद, बदमाशों ने मांगी थी एक करोड़ की फिरौती

एसपी अभिषेक सिंह ने बताया कि अभियुक्त अभिषेक जैन की कपड़े और गौरव जैन की पंसारी की दुकान हैं। गौरव जैन रिश्ते में आदिश जैन का दामाद लगता है। गौरव का आदिश जैन के घर पर आना जाना था। दोनों दोस्तों ने मिलकर साजिश रची। करीब एक माह पहले बड़ौत के ही रॉकी से वैगनआर खरीदी गई। अभिषेक जैन ने अपनी दुकान पर काम करने वाले जौहड़ी निवासी अमित और उसके भाई सुमित को शामिल किया। बताया गया कि अपहरण की वारदात में वैगनआर का चालक मोहसिन के अलावा अश्वनी उर्फ प्रिंस और जिवाना निवासी अनुज शामिल रहे। एक करोड़ रुपये की फिरौती मांगी गई।

यह भी पढ़ेें: Meerut: पड़ोसी युवक ने अपने घर में ​दूध पिलाने के बहाने 10 साल की बच्ची से किया दुष्कर्म

तय किया गया कि 25 लाख रुपये चारों बदमाशों को दिए जाएंगे, इनमें अपहरण होते ही पांच लाख रुपये एडवांस दे दिए गए थे। जबकि 75 लाख रुपये अभिषेक जैन और गौरव जैन को रखने थे। तीन अपहरणकर्ता व्यापारी को लेकर रटौल की ओर चले गए, जबकि अभिषेक जैन, अमित और सुमित बाइक पर बिजरौल के जंगल में पहुंचे। अभिषेक जैन ने रंगदारी मांगी और मोबाइल स्विच ऑफ कर अमित को दे दिया था। इसके बाद सब अपने-अपने घर लौट गए थे। एसपी अभिषेक सिंह ने बताया कि साजिशकर्ता अभिषेक जैन से पूछताछ की गई। पूछताछ में पता चला कि बरामद वैगनआर कार बड़ौत के ही रॉकी से खरीदी गई थी। पुलिस ने गंभीरता से जांच ​शुरू की तो सारी कड़ियां जुड़ती चली गई। इसके बाद लोहा व्यापारी के रिश्ते के दामाद और उसके दोस्त समेत आठ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। ​इन्हें पत्रकार वार्ता में ​पेश किया गया।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here