Meerut में शराब माफिया रमेश प्रधान की 1.40 करोड़ की अवैध संपत्ति कुर्क, West UP के कुख्यातों में मचा हड़कंप

जेल में बंद वेस्ट यूपी के कुख्यात बदमाशों में हड़कंप मचा हुआ है। दरअसल, रोहटा क्षेत्र में कुख्यात योगेश भदौड़ा की संपत्ति को कुंर्क करने के बाद सोमवार को शहर के ब्रह्मपुरी क्षेत्र में शराब माफिया रमेश प्रधान की एक करोड़ 40 लाख रुपये की अवैध संपत्ति को पुलिस ने कुर्क किया है।

0
391

मेरठ। ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र के मंगतपुरम में शराब माफिया रमेश प्रधान की एक करोड़ 40 लाख की अवैध संपत्ति को कुर्क करके जब्त कर लिया गया है। जनपद में कुख्यात योगेश भदौड़ा के बाद अब शराब माफिया रमेश ​प्रधान के खिलाफ कार्रवाई होने से अन्य अपराधियों में खलबली मची हुई है।

यह भी पढ़ें: वाहनों पर डंडों से हमला करके लूटते थे बदमाश, पुलिस ने मुठभेड़ के बाद चार किए गिरफ्तार

एसएसपी के निर्देश पर सोमवार को पुलिस ने बड़ा एक्शन लेते हुए शराब माफिया रमेश प्रधान के खिलाफ तगड़ी कार्रवाई की है जहां ब्रह्मपुरी क्षेत्र में पुलिस ने शराब माफिया के दो मकान सहित गाड़ियां और अन्य सामान को सील कर दिया है करीब एक करोड़ रुपए की संपत्ति पुलिस ने सील कर दी। प्रशासन के आदेशों पर आज पुलिस ने ब्रह्मपुरी क्षेत्र के सूर्य पुरम इलाके में पहुंचकर शराब माफिया रमेश प्रधान के दो मकानों को सील कर दिया इसके साथ ही पुलिस ने छह गाड़ियां और अन्य सामान को भी सील किया है। करीब एक करोड़ रुपए की संपत्ति को आज पुलिस ने सील कर दिया रमेश प्रधान मेरठ का पुराना शराब माफिया है। फिलहाल अपने साथियों के साथ चौधरी चरण सिंह जिला कारागार में जेल काट रहा है। पुलिस का कहना है कि पुलिस आगे भी इस तरह के अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई करती रहेगी।
इसी दौरान ब्रह्मपुरी पुलिस ने गैंगस्टर में निरुद्ध रमेश प्रधान की करीब एक करोड़ 40 लाख रुपये की संपत्ति कुर्क कर जब्त कर ली गई। मंगतपुरम निवासी रमेश प्रधान के दो मकान, एक प्लाट और चार गाड़ियां जब्त कर लीं। सीओ ब्रह्मपुरी अमित राय के मुताबिक, गैंगस्टर और गुंडा एक्ट में निरुद्ध रमेश ने शराब और मादक पदार्थों की तस्करी करके करोड़ों रुपये की संपत्ति अर्जित की है। रमेश जेल में बंद है।

यह भी पढ़ें: Bulandshahr में फिर होते बचा बिकरू कांड, पुलिस टीम पर फायरिंग करके 7 फरार, ​87 गोवंश के साथ नौ महिलाएं गिरफ्तार

ऊधम, बद्दो और बाफर निशाने पर

पंचायत चुनाव से पहले जिला पुलिस कुख्यात अपराधियों की कुंडली खंगालने में जुट गई है। एडीजी राजीव सभरवाल के निर्देश पर शुरू हुए इस अभियान में अन्य अपराधी भी पुलिस के निशाने पर आ गए हैं। एसपी देहात अविनाश पांडे के अनुसार अपराधियों द्वारा कब्जा की गई संपत्ति चिह्नित की जा रही हैं। जल्दी ही करनावल निवासी कुख्यात ऊधम सिंह के परिवार पर भी शिकंजा कसने की तैयारी है। पुलिस ने भदौड़ा, ऊधम सिंह, मोस्ट वांटेड बदन सिंह बद्दो और पूर्व प्रमुख भूपेंद्र बाफर का आपराधिक रिकॉर्ड खंगालना शुरू कर दिया है। एसपी क्राइम रामअर्ज ने बताया कि रमेश के बाद शराब माफिया खरखौदा क्षेत्र के पाशा पर भी शिकंजा कसा जाएगा।

यह भी पढ़ें: Unlock 5: त्योहारी सीजन में योगी सरकार के लिए होंगी नई चुनौतियां, इन स्थानों को खोलने की मिल सकती है छूट

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here