Meerut: भाजपा विधायक पर आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज

0
226

मेरठ। हस्तिनापुर विधानसभा क्षेत्र के भाजपा विधायक दिनेश खटीक और 13 अन्य लोगों पर आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज किया गया है। यह मामला 48 वर्षीय ओमकार सिंह तोमर द्वारा कथित तौर पर आत्महत्या करने और उसके लिए भाजपा विधायक को जिम्मेदार ठहराने के बाद दर्ज किया गया है। मृतक के परिवार ने कहा है कि तोमर के बेटे के खिलाफ दर्ज हुए दहेज के मामले को निपटाने के लिए खटीक उन पर 15 लाख रुपये देने का दबाव डाल रहे थे। हालांकि खटीक ने इन आरोपों से इनकार करते हुए कहा, “मुझसे तोमर के परिवार की ओर से मध्यस्थता करने के लिए कहा गया था। मैंने यह काम किया लेकिन उनकी आत्महत्या में मेरी कोई भूमिका नहीं है। मैं पुलिस की जांच में पूरा सहयोग करूंगा।”

farmers protest: धरना स्थल पर AC और कूलर में सोएंगे किसान, खेतों में काम के साथ सुचारु रहेगा आन्दोलन: टिकैत

पता चला है कि मृतक के बड़े बेटे ने 2020 में मुजफ्फरनगर के खतौली की एक युवती से शादी की थी, लेकिन कुछ महीने बाद ही उनमें विवाद हो गया। इसके बाद तोमर के परिवार के खिलाफ खतौली पुलिस में दहेज का मामला दर्ज किया गया। खटीक दोनों परिवारों के बीच समझौता करा रहे थे।

Meerut: वरिष्ठ अधिवक्ता ने फासी लगाकर की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लगाए गंभीर आरोप

वहीं तोमर के बेटे दिव्येश तोमर का कहना है कि खटीक और उनके समर्थकों ने पिता को मरने के लिए मजबूर किया। उन्होंने कहा, “विधायक खटीक और उनके समर्थकों ने मेरे पिता पर दबाव बनाया कि वे उन्हें 15 लाख रुपये और एक कार दें। साथ ही युवती के परिजनों का पूरा सामान वापस करें। मेरे पिता ने 15 लाख रुपये देने में असमर्थता जताई तो खटीक के समर्थकों ने हमें एसिड अटैक के झूठे मामले में फंसाने की धमकी दी। मेरे पिता ये दबाव नहीं झेल पाए और उन्होंने आत्महत्या कर ली।”

इस मामले में मेरठ के एसएसपी अजय साहनी ने कहा, “विधायक समेत 14 लोगों पर मामला दर्ज किया गया है और आगे की जांच जारी है।”

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here